ममता सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरी भाजपा, 1500 कार्यकर्ताओं को घायल करने का लगाया आरोप

ममता सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरी भाजपा, 1500 कार्यकर्ताओं को घायल करने का लगाया आरोप
ममता सरकार के खिलाफ सड़क पर उतरी भाजपा, 1500 कार्यकर्ताओं को घायल करने का लगाया आरोप नई दिल्ली/कोलकाता, 26 अप्रैल (आईएएनएस)। पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार के खिलाफ एक बार फिर भाजपा ने सड़क पर उतर कर विरोध किया। भाजपा के युवा विंग भाजयुमो ने अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या, भाजयुमो राष्ट्रीय महासचिव एवं दार्जिलिंग से लोकसभा सांसद राजू बिस्ता, पश्चिम बंगाल प्रदेश अध्यक्ष सुकांत मजूमदार और पार्टी के अन्य सांसदों एवं युवा मोर्चा के अन्य महत्वपूर्ण नेताओं के नेतृत्व में राज्य की राजधानी कोलकाता की सड़कों पर उतर कर जम कर विरोध प्रदर्शन किया।

शिक्षकों की भर्ती में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए सड़कों पर उतरे भाजपा के इन युवा नेताओं को पश्चिम बंगाल पुलिस ने पानी की भारी बौछार कर रास्ते में ही रोक दिया। इसके बाद भाजपा ने पश्चिम बंगाल सरकार और पुलिस पर 1500 से अधिक कार्यकर्ताओं को घायल करने का आरोप लगाते हुए कहा कि सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ शांतिपूर्ण तरीके से किए जा रहे मार्च के दौरान पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई शर्मसार है।

भाजयुमो के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने पश्चिम बंगाल की ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि शिक्षकों की भर्ती में भ्रष्टाचार के खिलाफ भाजयुमो का मार्च तानाशाही सरकार ने पानी की बौछारों से रोका और हम पर छिड़के गए पानी की एक-एक बूंद ममता बनर्जी की परेशानी बढ़ाएंगे।

उन्होंने आगे कहा, ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली यह असहिष्णु सरकार बंगाल के लोगों का सामना करने की हिम्मत भी नहीं कर रही है। पुलिस को अपने निजी गुंडों के रूप में इस्तेमाल कर रही है। ममता बनर्जी के शासन में बंगाल पुलिस बाउंटी हंटर्स की तरह काम कर रही है।

भाजयुमो के राष्ट्रीय महासचिव और लोक सभा सांसद राजू बिस्ता ने राज्य की ममता सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, टीएमसी पुलिस द्वारा अभूतपूर्व बल प्रयोग, लाठीचार्ज, पानी की बौछार पश्चिम बंगाल से अपने अधिकारों की मांग के लिए एकत्र हुए 5,000 से अधिक युवाओं को चुप कराने के लिए दिखाता है कि टीएमसी डरी हुई है न्याय की गुहार लगाते युवा से। भाजयुमो हर बंगाली युवा के साथ कंधे से कंधा मिला कर खड़ा है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे कितनी ताकत का इस्तेमाल करते हैं। हम नहीं रुकेंगे। भाजयुमो टीएमसी को आगे के राजनीतिकरण और शिक्षा प्रणाली के भ्रष्टाचार में शामिल नहीं होने देगा। हम पश्चिम बंगाल के युवाओं को न्याय मिलने तक अथक प्रयास करेंगे और हम शिक्षा प्रणाली को टीएमसी से बचाने और पश्चिम बंगाल को इस तानाशाही, निरंकुश शासन से बचाने के लिए काम करना जारी रखेंगे।

--आईएएनएस

एसटीपी/एसजीके

Share this story