मित्र और विरोधी, दोनों पीएम मोदी के इस कथन को हमेशा रखेंगे याद : बी एल संतोष

मित्र और विरोधी, दोनों पीएम मोदी के इस कथन को हमेशा रखेंगे याद : बी एल संतोष
मित्र और विरोधी, दोनों पीएम मोदी के इस कथन को हमेशा रखेंगे याद : बी एल संतोष नई दिल्ली, 19 नवंबर (आईएएनएस)। भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महासचिव बी एल संतोष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा तीनों कृषि कानूनों को वापस लिए जाने के ऐलान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मित्र और विरोधी , दोनों ही पीएम मोदी के कथन को हमेशा याद रखेंगे।

तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा करते समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जिन वाक्यों का इस्तेमाल किया था , उसके बारे में प्रतिक्रिया देते हुए भाजपा के राष्ट्रीय संगठन महासचिव बी एल संतोष ने ट्वीट करते हुए लिखा , किसानों के लिए किया था,देश के लिए वापिस ले रहा हूँ! .. पीएम नरेंद्र मोदी। इतिहास हमेशा इस वाक्य को याद रखेगा। मित्र और विरोधी , दोनों आज के इस वाक्य को हमेशा याद रखेंगे।

शुक्रवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन के दौरान पीएम मोदी ने यह कहा कि देश में कृषि के विकास और किसानों के कल्याण के महाभियान के तहत सरकार नेक नियत और समर्पण भाव से देश के किसानों के कल्याण के लिए ये 3 कृषि कानून लेकर आई थी लेकिन देश के कुछ किसान भाईयों को सरकार यह समझा नहीं पाई। उन्होने कहा कि भले ही किसानों का एक वर्ग ही इन कानूनों का विरोध कर रहा था लेकिन यह सरकार के लिए महत्वपूर्ण था इसलिए सरकार ने इन तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का फैसला किया है।

कृषि कानूनों को वापस लेने की घोषणा करते समय पीएम मोदी ने कहा कि सरकार किसानों के हित में काम करती रही है और आगे भी करती रहेगी। इसके साथ ही उन्होने यह भी कहा कि जो किया वो किसानों के लिए किया ( कृषि कानूनों को बनाना ) और जो कर रहा हूं ( कृषि कानूनों को वापस लेना ), वो देश के लिए कर रहा हूं।

बी. एल. संतोष ने प्रधानमंत्री के इसी कथन का हवाला देते हुए तीनों कृषि कानूनों का विरोध करने वाले लोगों पर यह तीखी टिप्पणी की है।

--आईएएनएस

एसटीपी/आरजेएस

Share this story