मीनाक्षी लेखी ने पार्थ चटर्जी विवाद में ममता की चुप्पी पर बोला हमला

मीनाक्षी लेखी ने पार्थ चटर्जी विवाद में ममता की चुप्पी पर बोला हमला
मीनाक्षी लेखी ने पार्थ चटर्जी विवाद में ममता की चुप्पी पर बोला हमला नई दिल्ली, 28 जुलाई (आईएएनएस)। केंद्रीय मंत्री मीनाक्षी लेखी ने पार्थ चटर्जी की सहयोगी अर्पिता मुखर्जी के आवास से बरामद नकदी पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की चुप्पी पर सवाल उठाते हुए कहा कि जो लोग मां, माटी, मानुष के नारे लगाते थे उनको अब सिर्फ पैसे की परवाह है।

मैं लोगों को याद दिलाना चाहती हूं कि जो लोग मां, माटी, मानुष का नारा लगाते थे, आज उन्हें केवल पैसे, पैसे, पैसे की परवाह है। आश्चर्यजनक रूप से ईडी ने चटर्जी के करीबी सहयोगी से भारी मात्रा में नकदी बरामद की लेकिन मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पूरी तरह से चुप हैं।

मुखर्जी के इस बयान का जिक्र करते हुए कि चटर्जी ने उनके घर को मिनी बैंक में तब्दील कर दिया था, और पैसे ऊपर से नीचे तक बांटे जा रहे थे, उन्होंने कहा, .. सबसे ऊपर वाला कौन है, इसकी भी जांच होनी चाहिए।

लेखी ने यह भी आरोप लगाया, चटर्जी की एक अन्य सहयोगी मोनालिसा दास, जिन्हें 2001 में एक छात्र के रूप में एक विश्वविद्यालय में भर्ती कराया गया था, आज एक प्रोफेसर हैं और वहां बंगाली भाषा विभाग की प्रमुख हैं।

ईडी ने बुधवार को कोलकाता के उत्तरी बाहरी इलाके बेलघरिया में चटर्जी के करीबी सहयोगी मुखर्जी के आवास से 20 करोड़ रुपये नकद और तीन किलो सोने की छड़ें बरामद कीं। इससे पहले 22 जुलाई को ईडी ने दक्षिण कोलकाता में मुखर्जी के डायमंड पार्क हाउसिंग कॉम्प्लेक्स स्थित आवास से 21 करोड़ रुपये नकद, 70 लाख रुपये की विदेशी मुद्रा और 90 लाख रुपये के सोने के गहने बरामद किए थे।

छापेमारी में कई हाई-एंड ऐप्पल आईफोन, फ्लैटों की बिक्री के दस्तावेज और वाहनों के दस्तावेज भी बरामद किए गए।

--आईएएनएस

पीजेएस/एसकेपी

Share this story