यूकेएसएसएससी पेपर लीक में एसटीएफ को अहम कामयाबी, लखनऊ से एक आरोपी गिरफ्तार

यूकेएसएसएससी पेपर लीक में एसटीएफ को अहम कामयाबी, लखनऊ से एक आरोपी गिरफ्तार
यूकेएसएसएससी पेपर लीक में एसटीएफ को अहम कामयाबी, लखनऊ से एक आरोपी गिरफ्तार देहरादून, 27 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तराखंड अधीनस्थ चयन सेवा आयोग परीक्षा प्रश्न पत्र लीक मामले में स्पेशल टास्क फोर्स को अहम कामयाबी मिली है। यूकेएसएसएससी परीक्षा लीक के तार लखनऊ की प्रिंटिंग प्रेस से जुड़ रहे हैं। एसटीएफ ने एक आरोपी अभिषेक वर्मा को लखनऊ से गिरफ्तार किया है। इतना ही नहीं एसटीएफ को मौके से परीक्षा लीक से संबंधित कई साक्ष्य और सबूत बरामद हुए हैं।

एसटीएफ के अनुसार यूकेएसएसएससी परीक्षा के गोपनीय कार्य लखनऊ स्थित आरएमएस टेक्नो सॉल्यूशन इंडिया प्राइवेट लिमिटेड से होते थे. जहां पर एसटीएफ टीम ने दबिश देकर अभिषेक वर्मा नाम के युवक को गिरफ्तार किया है। फिलहाल एसटीएफ की टीम लखनऊ प्रिंटिंग प्रेस से जुड़े आरोपी अभिषेक वर्मा से 2021 यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में जुड़े नेटवर्क के बारे में पूछताछ कर आगे की कार्रवाई में जुटी है।

बीते 24 जुलाई को उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग में फजीर्वाड़े को लेकर बड़ा खुलासा हुआ था। इस मामले में उत्तराखंड एसटीएफ की टीम 6 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। जिनमें परीक्षा करवाने वाली कंपनी के टेक्निकल स्टाफ, आयोग के होमगार्ड, कोचिंग संचालक और कुछ मुन्नाभाई शामिल थे। जिसमें जयजीत दास, मनोज जोशी, कुलवीर सिंह चौहान, शूरवीर सिंह चौहान और गौरव नेगी शामिल हैं। उनके पास से 37 लाख की नकदी भी बरामद की गई थी। अब लखनऊ से भी एक गिरफ्तारी हो गई है। इस तरह यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में 7 आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने यूकेएसएसएससी में हुए भ्रष्टाचार को लेकर बड़ा बयान देते हुए सरकार की रणनीति व पारदर्शिता को पूरी तरह स्पष्ट कर दिया है। सीएम ने कहा है कि अभी और भी कई शिकायतें मिल रही हैं, जिन पर सरकार कार्रवाई के लिए तैयार है। सरकार पूरी तरह पारदर्शी और निष्पक्ष होकर काम कर रही है।

--आईएएनएस

स्मिता/एसकेपी

Share this story