यूपी के बिजनौर में तेंदुए ने पांच साल के बच्ची को किया घायल

यूपी के बिजनौर में तेंदुए ने पांच साल के बच्ची को किया घायल
बिजनौर, 18 मार्च (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले में तेंदुए ने एक बार फिर पांच साल के बच्ची को गंभीर रूप से घायल कर दिया और उसे घसीट कर जंगल में ले जाने की कोशिश की। लेकिन बच्ची की चीख-पुकार से पिता और आसपास के ग्रामीण सतर्क हो गए और वे उसे बचाने के लिए दौड़ पड़े।

शोर सुनकर तेंदुआ बच्चे को छोड़कर जंगल की ओर भाग निकला। लड़की की गर्दन और चेहरे पर गहरे घाव हैं। उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। घटना नगीना थाना क्षेत्र के बूढ़ावाला गांव की है।

20 दिनों में तेंदुए के तीन हमले हो चुके हैं और 14 वर्षीय एक लड़की की मौत हो गई है। गन्ने के खेत तेंदुए के लिए सुरक्षित ठिकाना हैं।

अधिकारियों के मुताबिक, गन्ने के खेतों के बीच कम से कम 150 तेंदुए रहते हैं।

एक स्थानीय निवासी ने कहा, गन्ने की कटाई के बाद ग्रामीणों पर तेंदुओं का हमला हो रहा है। पिछले 20 दिनों में नगीना क्षेत्र में तेंदुए के तीन हमले हो चुके हैं। किरतपुर गांव में तेंदुए ने एक 14 वर्षीय लड़की को मार डाला। जीतपुर गांव में एक 10 वर्षीय बच्चा अपनी मां के साथ जब जंगल से घर जा रहा था, तो उस पर हमला कर गंभीर रूप से घायल कर दिया और फतेहपुर गांव में एक 60 वर्षीय महिला पर उस समय हमला किया गया जब वह गन्ने के खेत में घास काट रही थी।

वन अधिकारी अरुण कुमार ने कहा, हमने तेंदुए को फंसाने के लिए पिंजरे लगाए हैं। इलाके में रहने वाले ग्रामीणों को भी सतर्क कर दिया गया है।

वन अधिकारी ने बताया कि नगीना क्षेत्र से अब तक दो तेंदुओं को रेस्क्यू कर अमानगढ़ रेंज में छोड़ा है।

--आईएएनएस

विमल कुमार/सीबीटी

Share this story