यूपी : परिजनों ने शिक्षकों पर लगाया मारपीट का आरोप, छात्र की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया

यूपी : परिजनों ने शिक्षकों पर लगाया मारपीट का आरोप, छात्र की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया
यूपी : परिजनों ने शिक्षकों पर लगाया मारपीट का आरोप, छात्र की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया कन्नौज (उत्तर प्रदेश), 27 जुलाई (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में 15 वर्षीय एक लड़के की मौत को लेकर जहां एक तरफ उसके परिवार वाले दावा कर रहे हैं कि उनके बेटे की मौत स्कूल के शिक्षक द्वारा कथित तौर पर पिटाई किए जाने के बाद हुई है, तो वहीं पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पता मौत का कारण ट्यूबरक्लोसिस यानी टीबी को बताया गया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी विनोद कुमार ने बुधवार को कहा कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार, दिलशान के शव के पोस्टमार्टम में उसकी ट्यूबरक्लोसिस से मौत होने की बात सामने आई है।

उन्होंने कहा, दिलशान के दोनों फेफड़ों में पस जमा हो गया था, शरीर पर चोट या खरोंच का कोई निशान नहीं पाया गया है।

कन्नौज के पुलिस अधीक्षक कुंवर अनुपम सिंह ने कहा कि पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि लड़के की मौत कथित तौर पर मारपीट के कारण हुई थी या नहीं।

कन्नौज पुलिस को दी शिकायत में उसके पिता ने कहा कि दिलशान को कथित तौर पर एक कमरे में बंद कर दिया गया था और तीन शिक्षकों ने पीट-पीट कर उसे मार डाला। शिक्षकों ने उस पर घड़ी चोरी करने का आरोप लगाया था।

शिकायत में कहा गया है कि शिक्षक शिव कुमार यादव ने दिलशान को बुलाया और उस पर घड़ी चुराने का आरोप लगाया।

शिकायत में कहा गया है कि दिलशान को शिव कुमार, उसके साथियों प्रभाकर और विवेक यादव ने एक कमरे में बंद कर दिया और उसके साथ मारपीट की।

दिलशान के पिता जहांगीर खान ने कहा कि उनके बेटे को अंदरूनी चोटें आई हैं और स्कूल से लौटने के बाद वह उल्टी के बाद बेहोश हो गया।

सोमवार देर शाम कन्नौज के मुरारी लाल चेस्ट अस्पताल में लड़के ने दम तोड़ दिया।

--आईएएनएस

पीके/एसजीके

Share this story