राहुल गांधी का विभाजनकारी ताकतों से निपटने के लिए विपक्षी रणनीति बनाने का आह्वान

राहुल गांधी का विभाजनकारी ताकतों से निपटने के लिए विपक्षी रणनीति बनाने का आह्वान
राहुल गांधी का विभाजनकारी ताकतों से निपटने के लिए विपक्षी रणनीति बनाने का आह्वान कोच्चि, 22 सितम्बर (आईएएनएस)। भारत जोड़ो यात्रा का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने गुरुवार को विपक्षी दलों से देश में मौजूदा विभाजनकारी ताकतों से निपटने के लिए रणनीति बनाने का आह्वान किया है।

राहुल गांधी ने केरल में अपनी यात्रा के 12 वें दिन मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि, मुझे लगता है कि विपक्ष को रणनीति बनानी होगी। उन्हें वैचारिक, वित्तीय और सरकारी शक्ति से लड़ने के लिए एक साथ आना होगा, जो अब देश में उभर कर सामने आ रहा है। उन्होंने यह भी बताया कि वे राजनीति को देखने के तरीके पर वामपंथियों से अलग हैं।

उन्होंने कहा, मुझे यहां वामपंथियों का समर्थन करने वाले अच्छी संख्या में लोग हाथ मिला रहे हैं क्योंकि वे अपने दिल के अंदर जानते हैं कि मैंने नफरत के बारे में जो मुद्दा उठाया है वह सही है। हालांकि, राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ने वाले बयान को दरकिनार कर दिया। उन्होंने कहा, मैंने अपनी पिछली प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस सवाल का विस्तार से जवाब दिया है और इसकी कार्रवाई जारी है, इसलिए मैं दोबारा इस पर कुछ नहीं कहूंगा। उन्होंने यह भी कहा कि, कांग्रेस अध्यक्ष का पद संगठनात्मक पद नहीं बल्कि एक वैचारिक पद है।

उन्होंने यह भी बताया कि कांग्रेस का प्रत्येक कार्यकर्ता चुनाव लड़ सकता है और पूछा कि किन अन्य पार्टियों में ऐसी विशेषता है। उन्होंने कहा, किसी भी पार्टी में यह विशेषता नहीं है और इसलिए यह अच्छा है कि आप भी मुकाबले में शामिल हो सकते हैं। पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के कार्यालयों पर छापेमारी और गिरफ्तारियों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, सांप्रदायिक हिंसा के सभी रूपों का मुकाबला किया जाना चाहिए, चाहे वह कहीं से भी आए। भारत जोड़ो यात्रा 11 सितंबर को तमिलनाडु से शुरु हुई जो अभी केरल में है जो 19 दिनों में 43 विधानसभा और 12 लोकसभा क्षेत्रों में 453 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद 30 सितंबर को राज्य से बाहर निकल जाएगी।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम

Share this story