विपक्षी दलों ने संविधान और बाबासाहेब का अपमान किया है, जनता इनको माफ नहीं करेगी : जेपी नड्डा

विपक्षी दलों ने संविधान और बाबासाहेब का अपमान किया है, जनता इनको माफ नहीं करेगी : जेपी नड्डा
विपक्षी दलों ने संविधान और बाबासाहेब का अपमान किया है, जनता इनको माफ नहीं करेगी : जेपी नड्डा नई दिल्ली, 26 नवंबर (आईएएनएस)। संविधान दिवस पर संसद भवन में आयोजित कार्यक्रम का विरोधी दलों द्वारा बहिष्कार करने की आलोचना करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा है कि विपक्षी दलों ने संविधान और बाबासाहेब का अपमान किया है, जनता इनको माफ नहीं करेगी।

विरोधी दलों के रवैये की आलोचना करते हुए जेपी नड्डा ने ट्वीट कर कहा , आज जब देश के संविधान को सम्मान देने का और बाबासाहेब की विरासत को नमन करने का अवसर था, तब कुछ विपक्षी दलों ने राष्ट्रनीति पर संकीर्ण राजनीति करते हुए इसका बहिष्कार किया और देशहित के ऊपर दलहित और परिवारहित को रखा। ये संविधान और बाबासाहेब का अपमान है। जनता इनको माफ नहीं करेगी।

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी और कांग्रेस पर सीधा हमला करते हुए नड्डा ने ट्वीट कर कहा, राहुल गांधी ने बाबासाहेब की 125वीं जयंती का भी विरोध किया था। आज राहुल देश में नहीं दिख रहे हैं, लेकिन कांग्रेस वही रंग दिखा रही है। यह उनकी राजशाही मानसिकता का प्रतीक है। कांग्रेस ने, बाबासाहेब के जीवित रहते भी उनका विरोध किया था। उनको चुनाव हराया, उनको कभी उचित सम्मान नहीं दिया।

संविधान दिवस को संविधान में आस्था और बाबासाहेब अंबेडकर के प्रति सम्मान का पर्याय बताते नड्डा ने कहा, माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संविधान दिवस पर भाषण संविधान के महत्व का प्रचार प्रसार करने और बाबासाहेब आंबेडकर जी के विचारों को जन-जन तक पहुंचाने वाला है। संविधान दिवस, मोदी जी की संविधान में उनकी आस्था और बाबासाहेब के प्रति उनके सम्मान का परिचायक है।

संविधान दिवस को लेकर भाजपा का तर्क है कि जब देश में संविधान है तो संविधान दिवस भी होना चाहिए। इसलिए भाजपा शुक्रवार से लेकर बाबासाहेब अंबेडकर के परिनिर्वाण दिवस यानि 6 दिसंबर तक देश भर में संविधान गौरव अभियान को लेकर कार्यक्रमों का आयोजन कर रही है।

--आईएएनएस

एसटीपी/एएनएम

Share this story