सोनिया से पूछताछ से पहले कांग्रेस ने कहा - ईडी ने मचा रखा है आतंक

सोनिया से पूछताछ से पहले कांग्रेस ने कहा - ईडी ने मचा रखा है आतंक
सोनिया से पूछताछ से पहले कांग्रेस ने कहा - ईडी ने मचा रखा है आतंक नई दिल्ली, 27 जुलाई (आईएएनएस)। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से ईडी नेशनल हैराल्ड मामले में बुधवार को तीसरे दौर की पूछताछ करेगा। इस बीच, कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने केंद्र पर हमला बोला है। वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा, जब जंग हुआ करती थी, तब बादशाह अपने सिपाहियों को आदेश देते थे, बीमार और औरत पर हाथ मत उठाना।

उन्होंने कहा, मैं केंद्र को हिदायत देता हूं। इस उम्र में सोनिया जी को इतनी बार बुलाना उचित नहीं है।

गुलाम नबी आजाद ने आगे कहा, एक दो महीने से तबीयत खराब है, जिसके कारण धरने में भी शामिल नहीं हो पाया, न ज्यादा जानकारी प्राप्त कर पाया। हमारे साथियों ने चिंता व्यक्त की है, मेरे पास कोई नई बात नहीं है हर किसी ने सभी बातें कह दी हैं। राहुल गांधी से ईडी ने डबल शिफ्ट में बातचीत की, केस एक है, फैमिली एक है और दो आदमियों का नाम लिखा है, जब बेटे से बातचीत हुई, उसी केस के लिए सोनिया जी को बुलाने की क्या जरूरत?

उन्होंने आगे कहा, सोनिया जी की उम्र भी अधिक और वह बीमार हैं, 6 महीने में कई बार अस्पताल में भर्ती रहीं, ईडी का दबाब, जवान युवा बर्दाश्त नहीं कर सकता, इधर सोनिया जी की उम्र सबके सामने है।

जानकारी के अनुसार पहले की तरह ईडी की कार्रवाई के खिलाफ कांग्रेस अपना सत्याग्रह जारी रखेगी। हालांकि यह भी उम्मीद जताई जा रही है कि, विपक्षी दल के नेता भी कांग्रेस के प्रदर्शन के खिलाफ शामिल हो सकते हैं।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, ईडी द्वारा जो तमाशा हो रहा है और राहुल जी से भी पांच दिन तक लगातार पूछताछ हुई, जो कभी नहीं हुआ, अब तीसरे दिन सोनिया जी को बुलाया है और पता नहीं कब तक बुलाएंगे, ईडी का आतंक मचा हुआ है।

ईडी का उपयोग सरकार गिराने के लिए किया जा रहा है, लेकिन महाराष्ट्र में पिछले कई दिनों से मन्त्रीमंडल बनाने का काम नहीं हो रहा है। वहीं महंगाई, आर्थिक स्थति खराब है हर कोई चिंतित है। युवा परेशान है। पार्लियामेंट में प्रदर्शन नहीं कर सकते हैं, बीते कल 19 सांसदों को निलंबित कर दिया।

सोमवार को कांग्रेस ने ईडी की कार्रवाई के खिलाफ देशभर में सत्याग्रह किया। राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस सांसदों ने संसद से विजय चौक तक पैदल मार्च निकाला। कांग्रेस के सांसदों को राष्ट्रपति भवन तक मार्च करना था, लेकिन पुलिस ने उन्हें विजय चौक पर ही रोक दिया।

मंगलवार को ईडी की कार्रवाई के खिलाफ राहुल गांधी के नेतृत्व में सभी नेता विजय चौक पर ही धरने पर बैठे, कांग्रेस ने केंद्र पर जांच एजेंसियों का दुरुपयोग करने का आरोप भी लगाया, वहीं धरने पर बैठे राहुल गांधी समेत कांग्रेस के करीब 250 लोगों को दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया, इनमें से 57 सांसद थे।

--आईएएनएस

एमएसके/एसकेपी

Share this story