होम आइसोलेशन में कोविड मरीजों को स्वास्थ्य सविधाएं उपलब्ध करवाए सरकार: दिल्ली कांग्रेस

होम आइसोलेशन में कोविड मरीजों को स्वास्थ्य सविधाएं उपलब्ध करवाए सरकार: दिल्ली कांग्रेस
होम आइसोलेशन में कोविड मरीजों को स्वास्थ्य सविधाएं उपलब्ध करवाए सरकार: दिल्ली कांग्रेस नई दिल्ली, 9जनवरी (आईएएनएस)। दिल्ली में कोरोना के मामले 20 हजार पार आने लगे हैं। अधिकतर मरीज होम आइसोलेशन में अपना इलाज करा रहें हैं। ऐसे में दिल्ली कांग्रेस ने दिल्ली सरकार पर आरोप लगाते हुए मांग की है कि वह होम आइसोलेशन में कोरोना मरीजों को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराए।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अनिल कुमार ने कहा, यह राहत की बात है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद जल्दी से कोविड संक्रमण से उबर चुके हैं, लेकिन ये संयोग नही हो सकता की पाँच राज्यों के चुनाव घोषित होते ही केजरीवाल अब ठीक हो कर बाहर आ गये है।

दरअसल आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा था, मुझे भी कोरोना हो गया था और लगभग 7-8 दिन तक होम आइसोलेशन में रहा। मुझे लगभग दो दिन बुखार रहा, उसके बाद मैं लगातार ठीक रहा है। लेकिन कोविड के प्रोटोकाल के हिसाब से मैं 7-8 दिन होम आसोलेशन में रहा। अब मैं वापस आप सब की सेवा में हाजिर हूं।

अनिल कुमार ने बताया , सीएम जमीनी स्तर पर बिना कुछ किए ही मीडिया में बयानबाजी करते हैं, मौजूदा वक्त में अधिकतर कोविड मरीजों को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी जा रही है।

सरकार ने होम आइसोलेशन में रहने वालों के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किए हैं, और उन्हें स्वयं दवा न लेने की सलाह दी है, लेकिन उन्हें सरकार के कोविड सहायता केंद्र से कोई डॉक्टर की सलाह नहीं मिल रही,न ऑक्सीमिटर और न ही दवा मिल रही है।

शनिवार के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ो के मुताबिक, दिल्ली में 25909 मरीज होम आइसोलेशन में अपना इलाज करा रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि, उनके अपने परिवार के कुछ सदस्य भी कोविड के मरीज हैं और होम आइसोलाशन में ही हैं और न तो सरकार से और न ही कोविड सहायता केंद्रों से कोई सरकारी डॉक्टर सलाह मिली है।

मुख्यमंत्री अब जब आप स्वस्थ हो चुके हैं, कम से कम दिल्ली में तीव्र गति से बढ़ रहे कोरोना केसों की रोकथाम के लिए कोई रोडमैप बना लें और विधानसभा चुनाव वाले राज्यों में राजनीतिक पर्यटन पर जाने की बजाय कोविड मामलों की बढ़ती संख्या का प्रबंधन करने के लिए दिल्ली में ही रहें।

--आईएएनएस

एमएसके/आरजेएस

Share this story