79 फीसदी अफगान पत्रकारों ने जीवित रहने के लिए अपना पेशा छोड़ दिया

79 फीसदी अफगान पत्रकारों ने जीवित रहने के लिए अपना पेशा छोड़ दिया
79 फीसदी अफगान पत्रकारों ने जीवित रहने के लिए अपना पेशा छोड़ दिया नई दिल्ली, 11 जनवरी (आईएएनएस)। अफगानिस्तान के पत्रकार फाउंडेशन ने कहा कि देश में मीडियाकर्मी सबसे खराब आर्थिक स्थिति से गुजर रहे हैं, क्योंकि उनमें से 79 प्रतिशत ने अपनी नौकरी खो दी है और पैसा कमाने और जीवित रहने के लिए अन्य व्यवसायों का सहारा लिया है।

फाउंडेशन ने पिछले डेढ़ महीने में अफगान पत्रकारों के जीवन का आकलन किया है और पाया है कि वे नाजुक आर्थिक स्थिति के कारण सबसे खराब जीवन जी रहे हैं।

इससे पहले, आंकड़े बताते हैं कि अफगानिस्तान में 75 प्रतिशत तक मीडिया वित्तीय संकट के कारण बंद हो गया है।

फाउंडेशन के निष्कर्ष बताते हैं कि 91 प्रतिशत अफगान पत्रकार इस पेशे को चुनने से संतुष्ट हैं जबकि केवल 8 प्रतिशत ही खुश नहीं हैं।

पूरे अफगानिस्तान में कुल 462 अफगान पत्रकारों ने सर्वेक्षण में हिस्सा लिया, और उनमें से 390 पुरुष और 72 महिलाएं थीं।

फाउंडेशन ने अफगानिस्तान में अंतर्राष्ट्रीय समुदाय और तालिबान सरकार से पत्रकारों की आर्थिक स्थिति का समाधान करने का आह्वान किया।

--आईएएनएस

आरएचए/एएनएम

Share this story