कैसे करेंगे राम लला के दर्शन ? Ayodhya Me Ram Mandir Ko Lekar Jankari In Hindi

ram mandir ayodhya

Ram Mandir Ayodhya News, What Is Fast Track Lane, राम मंदिर के बारे में जानकारी

by Supriya Singh

 

जब से राम मंदिर का उद्घाटन हुआ है तब से राम मंदिर में लगातार भक्तों का ताँता लगा हुआ है। और वहां की जो भीड़ है. वो दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है. बता दें की रामलला के दरबार में लगातार सातवें दिन भी भक्तों की भीड़ उमड़ी रही ।

राम मंदिर के बारे में जानकारी, Ram Mandir Me Bhakton Ki Bheed Ke Liye Kya Niyam Bnaye Gye Hai?

दर्शन पूजन के लिए भक्त सुबह से ही राम मंदिर में घंटो लाइन में लगे रहे।  वहीं, भीड़ को कण्ट्रोल करने के लिए प्रशासन ने सोमवार से एक नई व्यवस्था लागू कर दी है। बता दें की प्रशासन की ओर से राम जन्मभूमि पथ पर एक फास्ट ट्रैक लेन बनाई गई है। जो श्रद्धालु और भक्त बैग, जूता-चप्पल और मोबाइल छोड़कर खाली हाथ आएंगे, उन्हें इस लेन से राम मंदिर परिसर में भेजा जाएगा। और वो सीधे राम मंदिर के सिंह द्वार तक पहुंच सकेंगे। इस लेन पर फास्ट ट्रैक लेन का संकेतक यानि की ( Indicators) भी लगा दिया गया है। अभी जो भी भक्त बैग आदि लेकर आ रहे हैं, उन्हें पहले तीर्थ यात्री सुविधा केंद्र में सामान को अच्छे से जांच कराकर जमा करना होता है। फिर उन्हें तीर्थ यात्री सुविधा केंद्र के बगल के रास्ते से राम जन्मभूमि परिसर भेजा जा रहा है। इसके साथ ही  राम मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं के सुविधाजनक दर्शन की व्यवस्था के लिए और भी कई परिवर्तन किए जा रहे हैं। जैसे की, मंदिर में प्रवेश करते ही श्रद्धालु किस तरह आगे बढ़ें और कहां से मुड़कर मुख्य मंदिर तक जायेंगे। ये सब कुछ समझाने के लिए जगह जगह Indicators लगाये जायेंगे।

ram mandir ayodhya

कैसे करेंगे राम लला के दर्शन? Fast Track Lane In Ayodhya

वहीँ कमिश्नर गौरव ने बताया कि निर्माण कंपनी लार्सेन टुब्रो को श्रीराम जन्मभूमि परिसर में दर्शन मार्गों और निकास मार्गों के अलावा भी मंदिर परिसर में बने शौचालयों पर जगह-जगह Indicators लगाने के निर्देश दिए हैं।इसके साथ ही मंदिर परिसर में लगी सुरक्षा एजेंसी को और अधिक मैनपॉवर की तैनाती की जाने के साथ ही उन्हें प्रशिक्षित करने की भी सलाह दी गई है। मंदिर में  साफ सफाई व्यवस्था को बेहतर रखने के लिए ट्रस्ट की ओर से तैनात एजेंसी को भी सफाई व्यवस्था बेहतर बनाने के निर्देश दिए गए हैं। वहीँ आईजी प्रवीण कुमार ने बताया कि सुरक्षा की दृष्टि से मंदिर के सभी प्रवेश और निकास द्वारों पर अर्टिफिशल इंटेलिजेंस (AI) बेस्ड कैमरे लगाए जाएंगे। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्यों ने इस पर सहमति भी जताई है। और इस समय वहां पर  सबसे ज्यादा शौचालय की समस्या सामने आ रही थी क्यूंकि लोगों की भीड़ लगातार बढ़ती जा रही है और वह पब्लिक टॉयलेट को लेकर कोई ख़ास इंतजाम नहीं थे।  इसलिए उसकी भी बढ़ोत्तरी के लिए लगातार काम किया जा रहा है। अधिकारियों ने कहा है कि आगामी दिनों में भगवान रामलला के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं की संख्या में और अधिक बढ़ोतरी होगी। ऐसे में ट्रस्ट को उसी के हिसाब से बैरिकेड बढ़ाने के सुझाव दिए गए हैं। उन्होंने बुजुर्गों, बच्चों और महिलाओं का विशेष ध्यान देने पर जोर देते हुए कहा कि दर्शनार्थियों की भावनाओं का सम्मान करते हुए प्रमुख पथों पर कम आवाज में राम भजन बजाए जाएं और सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों का व्यवहार भी मर्यादित रहे।

ram mandir me bhakton ki bheed

राम मंदिर में भक्तों की भीड़ के लिए क्या नियम है? Ram Mandir Ayodhya News

साथ ही योगी आदित्यनाथ ने अहम बैठक आयोजित करके मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक, परिवहन विभाग के प्रमुख सचिव और नगर विकास विभाग के प्रमुख सचिव से श्रद्धालुओं की सुरक्षा और सुविधा के लिए जरूरी इंतजाम सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए । उन्होंने यह भी कहा कि अयोध्या की सीमा से सटे जिलों के साथ अयोध्या प्रशासन के अधिकारी अंतरराज्यीय संवाद और संपर्क बनाए रखें। और भीड़ प्रबंधन के तहत राम पथ, भक्ति पथ, धर्म पथ और जन्मभूमि पथ पर, जहां भी दर्शनार्थी हों वे कतारबद्ध खड़े हों, भीड़ न लगे, कतार लगातार चलती रहे। और ज्यादा से ज्यादा भक्त श्री रामलला के दर्शन कर सकें इसलिए राम मंदिर के द्वार खुलने समय भी 1-1 घंटा बढ़ा दिया गया है। 

Share this story