मोदी सरकार में 5 गुना बढ़ गया एथेनॉल जानिए क्या फायदा होगा किसानों को 

ethenol

 एथेनॉल के उत्पादन से जहाँ गणना किसानों को अब पेमेंट में मिलने की देरी से निजात मिल सकेगी | अब चीनी मीलों दवारा बनाये गए एथेनॉल को आयल कंपनी द्वारा सीधे ले लिया जाएगा जिससे फायदा यह होगा की चीनी मिलों  को जहाँ चीनी बेचकर पैसा मिलेगा वहीँ एथेनॉल से भी फायदा होगा जिससे किसानों का पेमेंट आसानी से हो सकेगा | 

पिछले पांच साल में चीनी मिलों द्वारा 5 गुना उत्पादन किया जा रहा है | जिसका सीधा फायदा किसानों को मिलेगा | 

एथेनॉल का क्या उपयोग है ?What is the uses of ethanol?

एथेनॉल को पेट्रोल में मिलाया जाता है जिससे सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि पेट्रोल काम use काम होता है और बाहर  से काम पेट्रोल आयात  करना पड़ता है जिससे राजस्व की भी बचत होती है अब भारत में एथेनॉल भी ज्यादा से ज्यादा बनने लगा है और पिछले पांच साल में करीब पांच गुना एथेनॉल का उत्पादन बढ़ गया है | 

इथेनॉल कैसे बनता है?

चीनी मिल जब चीनी बनती है तो उसके बाद अवशेष के रूप में जो शीरा जिसे molasis भी कहते हैं उसी से उसका fermantation करते हुए distilisation करने से एथेनॉल बनाया जाता है | ethenol को ethyl alcohal or rectified spirit भी कहते हैं | 

प्रदूषण कम होगा 

डीजल पेट्रोल में एथेनॉल मिलाने से carbon dioxide का उत्सर्जन कम होगा जिससे प्रदुषण भी कम होगा | जानकार बताते हैं कि इससे कार्बन डाई आक्साइड का उत्सर्जन 35 प्रतिशत कम हो जाएगा | 

Share this story