Karj mukti ke aasan upay: अमावस्या के दिन रात्रि में बिना बताए कर लें ये उपाय, पैसों से भरी रहेगी तिजोरी 

Karj
Karj mukti ke aasan upay: कर्ज या उधार ऐसे चीज हैं जिससे हर कोई बचना चाहता है, लेकिन कई बार ऐसा हो नहीं पाता है।

Karj mukti ke aasan upay: कर्ज या उधार ऐसे चीज हैं जिससे हर कोई बचना चाहता है, लेकिन कई बार ऐसा हो नहीं पाता है। बहुत बार ऐसा भी होता है कि हम किसी की सहायता करने के लिए पैसा देते हैं, परंतु वो पैसा फंस जाता है या समय पर नहीं मिलता है। ऐसे में सब ये जानना चाहते हैं कि इस प्रकार की दिक्कतों से कैसे छुटकता पाया जाए। इसके लिए लोग उपाय भी करते हैं पर जो असरदार उपाय है सब करना ही लाभकारी साबित होता है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही उपाय के बारे में बता रहे हैं। 

उधार दिए पैसों की रिकवरी के लिए (karj mukti ke upay)

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक पैसा फंसने के कारक ग्रह चंद्रमा है। ऐसे में अगर कुंडली का चंद्रमा खराब हो जाए तो भलमनसाहत में दिया हुआ पैसा भी वापस मिलने में शंशय बना रहता है। ऐसे में आपको नियमित रूप से भगवान शिव को जल चढ़ाना है। ध्यान रखना है कि जल में लाल मिर्च के कुछ बीज डाल दें। जल अर्पित करने के बाद भगवान सूर्य से प्रार्थना करें कि आपका पैसा जल्द वापस मिल जाए।

अगर पैसा अधिक यानि 10-20 लाख या उससे अधिक है तो (karj se mukti)

इसके लिए आप मंगलवार की शाम घर या किसी मंदिर में हनुमान जी को एक लाल फूल की माला चढ़ाएं। इसके साथ ही हनुमान जी के सामने बैठकर सुंदरकांड का पाठ करें। ऐसा आपको लगातार 11 मंगलवार करना है।

अगर फंसे हुए पैसे का कुछ अंश मिल जाए और बाकी न मिले तो (karj wapsi ke upay) 

इसके लिए हर शनिवार को हनुमान जी के मंदिर जाएं और उन्हें प्रसाद अर्पित करें। इसके बाद उस प्रसाद को खुद भी ग्रहण करें लोगों के बीच में भी बांटें। ध्यान रखना है कि प्रसाद घर लेकर नहीं जाना है।

पैसा यदि प्रॉपर्टी में फंसा हो तो क्या करें? (Karz mukti upay) 

प्रॉपर्टी में फंसे हुए पैसे को वापस पाने के लिए मंगलवार के दिन हनुमान जी को चमेली का तेल और सिंदूर अर्पित करें। ऐसा पुरुष वर्ग को करना है। महिला लाल फूल चढ़ाएं। इसके अलावा हर मंगलवार को 9 बार हनुमान चालीसा का पाठ करना है। ऐसा 11 मंगलवार को करना है।

ज्योतिष में धनवान बनने के आसान उपाय (karj mukti ke totke) 

ज्योतिष शास्त्र की माने तो धनवान बनने के लिए सबसे पहले ये जानना आवश्यक है कि धन को किस स्थान पर रखना शुभ होता है। धन में वृद्धि के लिए आपको अपने धन को नैऋत्य कोण (दक्षिण पश्चिम) में धन रखना है। 

देवी लक्ष्मी के सामने घी का दीपक जलाएं साथ ही श्री शूक्त का पाठ करें। पाठ के बाद लक्ष्मी जी की आरती करें। 

इसके अलावा घर के आगे बेल और पीछे केले का पेड़ लगाएं। ऐसा करने से धन में बरक्कत होगी।

Share this story

Appkikhabar Banner29042021