गंगाजल के एक बूंद से दूर होगा वास्तु दोष, जानिए कैसे करें इस्तेमाल

Water
Vastu tips for home: गंगाजल का इस्तेमाल प्रायः सभी हिन्दू घरों में होता है। 

Vastu tips for home: गंगाजल का इस्तेमाल प्रायः सभी हिन्दू घरों में होता है। पूजा-पाठ, हवन सहित अन्य सभी शुभ कार्यों में गंगाजल का होना आवश्यक माना गया है। कहते हैं कि अगर किसी चीज को शुद्ध करना हो तो उस पर दो बूंद छिड़क देना ही काफी है। इसके अलावा मान्यता ये भी है कि गंगाजल से स्नान करने पर सभी सांसारिक पापों से मुक्ति मिलती है। गंगाजल का धार्मिक महत्व के साथ-साथ वास्तु दोष को भी दूर करता है। जानते हैं गंगाजल किस प्रकार वास्तु दोष को दूर करता है।

Vastu tips for home by gangajal 

दरिद्रता दूर करने के लिए 

घर की दरिद्रता दूर करने के लिए पूजा स्थल पर किसी साफ-सुथरे पात्र में गंगाजल रखें। घर के ईशान कोण (पूरब-उत्तर का कोना) में रखना और भी अच्छा रहेगा। समय-समय पर गंगाजल को घर के सभी हिस्सों में छिड़काव करते रहें। 

बच्चों के मानसिक विकास के लिए

बच्चों की मानसिक क्षमता के विकास के लिए बुधवार को गणपति की पूजा कर समूचे घर में गंगाजल छिड़कें। अगर रोज पूजन के पश्चात ऐसा कर सकते हैं तो और भी अच्छा। इसके अलावा दूर्वा को गंगाजल में डुबोकर बच्चे के मस्तक पर लगाएं। 

घर के वास्तु दोष को दूर करने के लिए 

घर के वास्तु दोष को दूर करने के लिए भगवान शिव की पूजा करें। इसके बाद गंगाजल को घर के कोने-कोने में छिड़कें। घर के अलावा अपने व्यावसायिक स्थल पर भी गंगाजल का छिड़काव कर सकते हैं। ऐसा करने से वास्तु दोष दूर होगा। 

कार्यस्थल के वास्तु दोष को दूर करने के लिए

कार्यस्थल के वास्तु दोष को दूर करने के लिए सबसे  पहले घर पर गंगाजल से शिव की पूजा करें। इसके बाद अपने प्रतिष्ठान कोने-कोने में इसका छिड़काव करें। ऐसा करने से व्यवसाय वाले स्थान पर नकारात्मक ऊर्जा का संचार नहीं होगा।

Share this story