Top
Aap Ki Khabar

January calendar 2021: 13 को लोहड़ी, जानिए प्रमुख व्रत-त्योहार कब-कब

14 जनवरी- मकर संक्रांति (Makar Sankranti 2021) सूर्य (Surya) जब अपनी राशि बदलकर कर्क से मकर में प्रवेश करता है तो यह पर्व मनाया जाता है।

January calendar 2021: 13 को लोहड़ी, जानिए प्रमुख व्रत-त्योहार कब-कब
X

हिंदी पंचांग (Hinu Panchang) के मुताबिक जनवरी 2021 (January 2021) में कई व्रत और त्योहार (Vrat and Festivals) पड़ने वाले हैं। जिसमें से मासिक शिवरात्रि (Masik Shivratri), दो एकादशी (Ekadashi), लोहड़ी (lohri), मकर संक्रांति (Makar Sankranti), खिचड़ी (Khichdi), आदि प्रमुख हैं। ये सभी व्रत और त्योहार (Vrat and Festivals) खास महत्व रखते हैं। पौष मास की संक्रांति (Sankranti) के बाद से सभी प्रमुख शुभ कार्य किए जा सकेंगे। इसलिए पूजा-पाठ (Puja Path) की दृष्टि से जनवरी का माह बेहद खास है। आगे जानते हैं जनवरी माह में पड़ने वाले प्रमुख व्रत-त्योहार (Vrat and Festivals इन January) के बारे में...

09 जनवरी- सफला एकादशी: (09 January Saphala Ekadashi) हिंदी पंचांग (Hindi Panchang) के मुताबिक पौष मास के कृष्ण पक्ष की एकदशी, सफला एकादशी कहलाती है। कहते हैं कि इस व्रत को विधि पूर्वक करने से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है। साथ ही व्रती के संतान को सभी कष्टों और परेशानियों से छुटकारा मिलता है। इस माह यह एकादशी 9 जनवरी को पड़ रही है।


11 जनवरी- मासिक शिवरात्रि (Masik Shivratri) वैसे तो साल में एक बार महाशिवरात्रि (Maha शिवरात्रि 2021) पड़ती है, लेकिन मासिक शिवरात्रि (Masik Shivratri) हर माह पड़ती है। शास्त्रों में मासिक शिवरात्रि के व्रत (Masik Shivratri Vrat) का खास महत्व बताया गया है। इस व्रत को विधि पूर्वक करने से भगवान शिव की विशेष कृपा मिलती है। इस महीने मासिक शिवरात्रि का व्रत 11 जनवरी को है।

13 जनवरी, लोहड़ी (Lohri 2021): लोहड़ी पर्व (Lohri Festival) को समूचे भारत में मनाया जाता है। इस पर्व को पंजाब और हरियाणा (Punjab and Hariyana) के लोग विशेष तौर से मनाते हैं। लोहड़ी पर्व (Lohri Festival 2021) हर साल मकर संक्रांति (Makar Sankranti 2021) से एक दिन पहले मनाया जाता है। इस महीने यह 13 जनवरी को मनाया जाएगा।


14 जनवरी- मकर संक्रांति: (Makar Sankranti 2021) सूर्य (Surya) जब अपनी राशि बदलकर कर्क से मकर में प्रवेश करता है तो यह पर्व मनाया जाता है। मकर संक्रांति (Makar Sankranti) पर लोग गंगा स्नान (GangaSnan) और दान (Daan) करते हैं। मकर संक्रांति (Makar sankranti 2021) को कई जगहों पर खिचड़ी (Khichdi 2021) पर्व के तौर पर मनाया जाता है। इसके अलावा इस दिन तिल और गुड़ के दान का भी खास महत्व है। इस बार मकर संक्रांति 14 जनवरी (Makar Sankranti 14 January) को मनाई जाएगी।

24 जनवरी- पुत्रदा एकादशी (paush Putrada Ekadashi 2021) पौष के शुक्लपक्ष (Paush ShuklaPaksha) की एकादशी (Ekadashi) के दिन पुत्रदा एकादशी (putrada Ekadashi2021) का व्रत रखा जाता है। संतान प्राप्ति के लिए पुत्रदा एकादशी (Putrada Ekadashi) का व्रत बेहद खास माना गया है। कहते हैं कि इस व्रत को विधिपूर्वक करने से पुत्र प्राप्ति का आशीर्वाद मिलता है। इस महीने पुत्रदा एकादशी का व्रत 24 जनवरी (Putrada एकादशी Vrat 2021) को रखा जाएगा।


26 जनवरी- भौम प्रदोष व्रत (Pradosh Vrat) शास्त्रों में भौम प्रदोष व्रत (Bhaum Pradosh Vrat) की खास महत्ता बताई गई है। प्रदोष व्रत जिस दिन पड़ता है उसी के अनुसार इसका नाम पड़ता है। इस महीने प्रदोष व्रत (PradoshVrat) मंगलवार को पड़ रहा है, इसलिए इसका नाम भौम प्रदोष व्रत (Bhaum Pradosh Vrat 2021) दिया गया है। भौम प्रदोष व्रत (Pradosh Vrat) भगवान शिव (Lord Shiv) की कृपा पाने के लिए किया जाता है।

28 जनवरी- पौष पूर्णिमा (Paush Purnima) मान्यताओं के मुताबिक पूर्णिमा की तिथि (Purnima Date 2021) शुभ तिथि होती है। यही कारण है कि इस दिन गंगा स्नान (Ganga Snan) और उसके बाद दान (Donation) को विशेष महत्व दिया गया है। पूर्णिमा (Purnima 2021) के दिन दान करने से कई गुणा अधिक पुण्य मिलता है। इस महीने पौष पूर्णिमा 28 जनवरी (Paush Purnima 28 January) को पड़ने वाली है। इसी दिन से माघ स्नान (Magh Snan2021) की शुरुआत भी हो जाती है।

31 जनवरी- संकष्टी चतुर्थी (Sankashti Chaturthi) माघ (Magh) के कृष्णपक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी (Sankashti Chaturthi) कहते हैं। इस स्थानों पर इसे सकट चौथ (Sakat Chauth 2021) या संकष्ट चतुर्थी (Sankasht Chaturthi) भी कहते हैं। संकष्टी चतुर्थी (Sankashti Chaturthi Vrat 2021) का व्रत विघ्नहर्ता भगवान गणेश (LOrd Ganesha) को समर्पित है। जीवन से विघ्न-बाधाओं का नाश करने के लिए संकष्टी चतुर्थी का व्रत रखा जाता है। इस अवसर पर भगवान गणेश की विधिवत् आराधना की जाती है। इस महीने संकष्टी चतुर्थी 31 जनवरी को पड़ने वाली है।

Next Story
Share it