क्या आपको भी आने वाली घटनाओं का होता है आभास, जाने क्या हैं दैवीय संकेत ! Sanatan Dharma Story In Hindi

 अगर आपको भी मिलने लगे हैं ऐसे संकेत, तो समझ जाइए एक दैवीय शक्ति आपके साथ है। Hindu Dharma Story

क्या होती हैं दैवीय शक्तियां ?
आप पर हो सकती है दैवीय कृपा।
अपने अंदर की शक्ति को कैसे पहचाने।

शास्त्रों के अनुसार हर शरीर में अच्छी और बुरी दो तरह की ऊर्जा का संचार होता है। कहा जाता है दिव्य शक्तियां हमारी सकारात्मक ऊर्जा को बढ़ाती हैंऔर मनुष्य को जीवन में अच्छे कर्मों की ओर प्रेरित करती हैं। वहीं नकारात्मक ऊर्जा मनुष्य को अंधकार और बुरे कर्मों की ओर ले जाती है। जिन मनुष्यों के अंदर सकारात्मक ऊर्जा होती है उनके साथ में कुछ पवित्र शक्तियां काम करती हैं, जो उन्हें कुछ विशेष शक्तियां प्रदान करती हैं। हम में से कई ऐसे लोग होने हैं जिन्हे भविष्य में घटने वाली घटनाओं या संभावनाओं का पता लग जाता है। उन्हें पता चल जाता है कि किसी विशेष परिस्थिति का क्या परिणाम होगा। कहा जाता है कि ये दैवीय शक्तियां उन मनुष्यों की ही सहायता करती हैं जो मन के साफ होते हैं, किसी को पीड़ा नहीं पहुंचाते, दूसरों के दुख को समझते हैं,असहायों की सहायता के लिए हर समय तत्पर रहते हैं, साथ ही जो नकारात्मक विचारों से दूर रहते हैं। जो मनुष्य नियमित अपने इष्ट की आराधना करते हैं और पुण्य का काम करते हैं, ऐसे पवित्र आत्मा वाले मनुष्यों की मदद दैवीय शक्तियां करती हैं। कई बार मनुष्यों को इसका आभास भी होता है कि कोई है जो सदैव उनके साथ होता है और उनके साथ होने वाली किसी अप्रिय घटना के बारे में उन्हें पहले से ही सचेत कर देता है। 

कैसे पहचानें कि दैवीय शक्ति कर रही हैं आपकी सहायता 

कई बार ऐसा अनुभव होता है कि ये घटना आप पहले से जानते हैं या किसी भविष्य की घटना के बारे में आपका दिमाग आपको चेताने लगता है। कई बार घटना घटित होने से पहले ही आपको आभास हो जाता है। कई लोग ऐसे होते हैं जिनके कठिन से कठिन समस्याएं आसानी से हल हो जाती हैं और वो खुद नहीं समझ पाते कि आखिर ऐसा कैसे हो जाता है। बताया जाता है कि जिन मनुष्यों को ऐसे अनूठे अनुभव होते हैं उन्हें कुछ दैवीय शक्तियां प्राप्त होती हैं। दुनिया में कई ऐसे लोग होते हैं जिन्हे उनके जीवन में दैवीय सहायता  प्राप्त होती है। जोकि कभी किसी को ज्यादा तो किसी को कम सहायता प्राप्त होती है। ऐसे में सवाल आता है कि आखिर कैसे पता चले कि उनके साथ कोई दैवीय शक्ति है? ये दैवीय शक्तियां कुछ संकेतों के द्वारा बताती हैं कि वे सदैव उस मनुष्य के साथ हैं। आज हम कुछ ऐसे संकेतों के बारे में जानेंगे जिससे पता चलता है कि दैवीय शक्तियां हमारे साथ हैं और हमे चेतावनी देती रहती हैं। यदि समय रहते हम इन दैवीय शक्तियों के संकेतों को समझ ले तो भविष्य में होने वाले बड़े नुकसान, दुर्घटनाओं एवं विसंगतियों से बच सकते हैं। जानकारों के अनुसार कुछ ख़ास इशारे या संकेत होते हैं जब किसी पर दैवीय शक्तियों की कृपा होती है। ये संकेत इस प्रकार हैं -

1. यदि आप नकारात्मक विचारों से दूर हैं। 

कहा जाता है कि दैवीय शक्तियां सिर्फ उन्ही की सहायता करती हैं जो सही मार्ग में चलते हैं। जो किसी के दख को समझता है, बुराइयों से दूर रहता है, जीवों की मदद करता है, आराधना एवं पुण्य कार्य करता है। ऐसे मनुष्यों को निश्चित ही दैवीय शक्तियां प्राप्त होती हैं। 

2. प्रतिदिन ब्रह्म मुहूर्त में उठना या स्वतः आंखें खुल जाना। 

जानकारों का कहना है कि यदि किसी मनुष्य की आँख रोज ब्रह्म मुहूर्त अर्थात प्रातः 3 से 5 के बीच खुल जाती है और वो उठकर अपने ध्यान काम में लग जाता है तो ऐसे मनुष्य के साथ दैवीय शक्तियां होती हैं। ऐसे मनुष्यों को दैवीय शक्तियां अच्छी आत्मा मानती हैं और रोजाना प्रातः जल्दी उठने का संकेत देती हैं। इस तरह ये दैवीय शक्तियां सही मार्ग पर चलने के लिए प्रेरित करती हैं। ऐसा भी कहा जाता है कि सत्वगुण प्रधान लोग इस काल में स्वतः ही उठ जाते हैं। आयुर्वेद के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त में बहने वाली हवा अमृततुल्य होती है। कहा जाता है कि इस बेला में मात्र 13% लोग ही उठ पाते हैं। 

3. अपने इष्ट को सपने में देखना। 

यदि आपको भी बार-बार मंदिर या अपने इष्ट के सपने आते हैं। इस प्रकार के स्वप्न में आप  देवी-देवता से बात करते हैं या आसमान में उड़ रहे होते हैं तो यह एक संकेत हो सकता है कि दैवीय शक्तियां आपके साथ हैं। 

4. घटनाओं का पूर्वाभास होना। 

यदि आपको भविष्य में घटने वाली घटनाओं का पूर्वाभास हो जाता है या किसी विशेष परिस्थितियों का पहले से पता चल जाता है तो संभव है कि आपके ऊपर दैवीय शक्तियां मेहरबान हैं। ये दैवीय शक्तियां आपको होने वाली घटनाओं के बारे में पहले से सचेत कर देती हैं। 

5. परिजनों के साथ प्रेम से रहना। 

यदि घर में सभी आपका आदर-सम्मान करते हैं। आपके परिवार के लोगों के साथ अन्य परिजन भी आपकी आज्ञा का पालन करते हैं, आपसे प्रेम करते हैं और आपकी बातों को महत्त्व देते हैं तो समझ जाइये कि दैवीय शक्तियां आपके साथ हैं। ये शक्तियां आपका परिवार और परिजनों के साथ प्रेम को बढ़ाने में मदद करती हैं। आपको परिवार में सम्मानजनक पद दिलाती हैं। 

6. लाभ की प्राप्ति या समस्याओं का निवारण। 

जीवन में अगर आपको भी अचानक से लाभ की प्राप्ति हो जाती है। आसानी से बड़ी से बड़ी समस्याओं से आप जूझ लेते हैं और ये हल हो जाती हैं। आपके किसी काम में बाधा नहीं आती और अगर आती है तो आसानी से दूर हो जाती है। सब कुछ बहुत ही आसानी से हो जाता है। तो इसका कारण आपके सद्गुण हैं जिस कारण दैवीय शक्तियां सदैव आपकी रक्षा करती हैं। 

7. सुगंध का अहसास होना। 

अगर आपको भी अचानक से अपने आसपास वातावरण में सुगंधित हवा का अहसास होता है तो यह भी संकेत करता है कि आपके साथ दैवीय शक्तियां है। 

8. पूजा के समय अचानक हवा का झोका महसूस होना। 

अगर आपको भी पूजा, हवन या कथा के समय अचानक हवा का झोका अथवा दिव्य प्रकाश की अनुभूति होती है तो समझ जाइये कि दैवीय शक्तियां आपसे अपनी प्रसन्नता का संकेत दे रही हैं। कई बार पूजा के समय आपके शरीर में अचानक सिहरन की अनुभूति होती है एवं एक अजीब से सुखद खुशी का अहसास होता हो तो दैवीय शक्तियां आप पर प्रसन्न हैं। 

9. खुद को हवा के पुंज में घिरा महसूर करना। 

कई बार अचानक से हमे ऐसा लगता है कि आसमान में बादल और हवाओं का कुछ पुंज हमे घेरे हुए हैं। यदि आपको भी ऐसी अनुभूति होती है तो आप पर दैवीय शक्तियां मेहरबान हो सकती हैं। 

10. मधुर संगीत कानों में बजना 

अगर आपको अचानक से तेज रोशनी दिखाई देती हैं या कानों में मधुर संगीत अचानक से बजने लगता है जिसकी आपने कल्पना भी नही की होती है तो समझ जाइये कि दैवीय शक्तियां आपको अपने होने का संकेत से रही हैं। 

11. अचानक से कानों में किसी की आवाज सुनाई देना। 

यदि आपको सोते हुए या कभी ऐसे ही अचानक कान में किसी की आवाज आती है और ऐसा लगता है कि कोई आपका नाम बुला रहा है या कोई कुछ कह रहा है तो यह दैवीय शक्तियों का ही संकेत है। अगर आपको भी इस प्रकार के संकेत महसूस होते हैं तो समझ जाइये कि आपके ऊपर कुछ दैवीय शक्तियों की विशेष कृपा है और वे सदैव आपके साथ रहती हैं। जीवन के प्रत्येक मोड़ पर आपको सचेत करते हुए आपको पग-पग पर सही रास्ता दिखती रहती हैं। 

 

 

Share this story