अग्निपथ विरोध : पुलिस के वाहनों की जांच के कारण दिल्ली की सीमाओं पर लगा जाम

अग्निपथ विरोध : पुलिस के वाहनों की जांच के कारण दिल्ली की सीमाओं पर लगा जाम
अग्निपथ विरोध : पुलिस के वाहनों की जांच के कारण दिल्ली की सीमाओं पर लगा जाम गुरुग्राम, 20 जून (आईएएनएस)। सरकार की नई अग्निपथ योजना के खिलाफ प्रदर्शन के बीच कुछ संगठनों ने सोमवार को भारत बंद का आह्वान किया है।

दिल्ली और गुरुग्राम पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग 48 पर दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर वाहनों की जांच तेज कर दी है, जिसके परिणामस्वरूप भारी ट्रैफिक जाम हो गया।

ज्यादातर दिल्ली में प्रवेश करने वाले यात्री जाम में फंस गए। दिल्ली पुलिस ने सीमाओं पर अपने बैरिकेड्स लगा दिए हैं और शहर में प्रवेश करने वाले यातायात के लिए कुछ ही लेन खोले गए हैं। इससे राजधानी की ओर जाने वाला यातायात धीमा हो गया और एक्सप्रेस-वे पर सीमा से लेकर शंकर चौक तक वाहनों की कतार लग गई।

देशव्यापी बंद के आह्वान के मद्देनजर सोमवार तड़के दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर सुरक्षाकर्मियों की भारी उपस्थिति देखी गई। इससे एक्सप्रेसवे पर यातायात की गति धीमी हो गई और राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारी जाम देखा गया।

सूत्रों ने कहा कि पुलिस राजस्थान और उत्तर प्रदेश से राष्ट्रीय राजधानी की ओर आने वाले वाहनों पर नजर रखे हुए है।

गुरुग्राम यातायात नियंत्रण कक्ष के अधिकारियों ने कहा कि दिल्ली पुलिस द्वारा दिल्ली-गुरुग्राम सीमा पर और रजोकरी फ्लाईओवर के पास बैरिकेड्स लगाने के कारण एक्सप्रेसवे पर यातायात की गति धीमी है।

डीसीपी (यातायात) रविंदर कुमार तोमर ने कहा, पुलिस आधिकारिक सोशल मीडिया हैंडल के माध्यम से गुरुग्राम में यातायात की स्थिति के बारे में लोगों को अपडेट कर रही है। सभी प्रमुख बिंदुओं पर 1,100 से अधिक ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की तैनाती की गई है।

उन्होंने कहा, प्रदर्शन के बीच गुरुग्राम पुलिस पहले से ही हाई अलर्ट पर है। जिले की सभी कनेक्टिंग सीमाओं पर कर्मियों की ताकत बढ़ा दी गई है। ट्रैफिक एडवाइजरी भी जारी की गई है।

नोएडा-दिल्ली बॉर्डर पर भी ट्रैफिक जाम देखा जा सकता है।

इस बीच, दिल्ली के भीतर जंतर मंतर पर कांग्रेस ने रक्षा भर्ती योजना अग्निपथ पर सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराने के लिए अपना सत्याग्रह शुरू कर दिया है।

अग्निपथ योजना ने पूरे भारत में कई राज्यों में अभूतपूर्व स्तर के आंदोलन और विरोध का सामना किया है।

सोमवार को आंदोलन की वजह से रेलवे को 181 मेल एक्सप्रेस और 348 यात्री ट्रेनों को रद्द करना पड़ा।

--आईएएनएस

एसकेके/आरएचए

Share this story