चीला एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट को केंद्रीय फंड का इंतजार

चीला एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट को केंद्रीय फंड का इंतजार
चीला एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट को केंद्रीय फंड का इंतजार नोएडा, 23 सितम्बर (आईएएनएस)। नोएडा प्राधिकरण ने चिल्ला एलिवेटेड रोड प्रोजेक्ट के लिए केंद्र सरकार से मदद मांगी है। यह सड़क 5.96 किमी लंबी होगी। प्राधिकरण ने एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करना शुरू कर दिया है जिसे केंद्र सरकार को भेजा जाएगा।

नोएडा प्राधिकरण अपनी पीएम गति शक्ति योजना के माध्यम से केंद्र सरकार से मदद की उम्मीद कर रहा है, जिसके बाद एलिवेटेड रोड का काम शुरू हो जाएगा। परियोजना में बार-बार रुकावट आने से इसकी लागत 605 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,076 करोड़ रुपये हो गई है। 25 जनवरी 2019 को नए सिरे से चिल्ला एलिवेटेड रोड का शिलान्यास किया गया था।

इसे बनाने के लिए नोएडा अथॉरिटी ने यूपी लोक निर्माण विभाग से डील की थी। अनुबंध में, दोनों पक्षों को निर्माण की समान लागत वहन करनी पड़ी। दोनों ने इसके लिए निर्माण कार्य उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम लिमिटेड को सौंपा था। चिल्ला एलिवेटेड रोड के निर्माण की लागत 605 करोड़ रुपये से कुछ अधिक तय की गई थी। करीब 73 करोड़ रुपये भी जारी किए गए। लेकिन 2 साल बाद भी उत्तर प्रदेश लोक निर्माण विभाग की ओर से राशि नहीं आई, इससे काम अटका हुआ है।

अक्षरधाम से महामाया फ्लाईओवर तक ट्रैफिक जाम को खत्म करने के लिए दिल्ली में चिल्ला रेगुलेटर से नोएडा में महामाया फ्लाईओवर तक चिल्ला एलिवेटेड रोड का निर्माण किया जाना था। यह एक दशक पुरानी मांग है लेकिन राज्य में भाजपा के सत्ता में आने के बाद, इसकी आधारशिला फिर से रखी गई और दो साल तक काम चलता रहा और फिर पैसों के अभाव में ठप पड़ गया। लेकिन जैसा कि नोएडा प्राधिकरण ने केंद्र सरकार से संपर्क किया है, उम्मीद है कि परियोजना जल्द ही धरातल पर उतरेगी।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम

Share this story