जयपुरिया इंस्टिट्यूट के वर्षिक उत्सव 'ओजस-22' का आग़ाज़

Lucknow jaipuria institute of management ojas2022
 अंतरनाद (नुक्कड़ नाटक) के जरिये संस्थान के छात्रों ने कार्यस्थल पर महिलाओं के खिलाफ हिंसा के उन्मूलन का संदेश दिया

ब्यूरो चीफ आर एल पाण्डेय 
लखनऊ। गोमती नगर स्थित जयपुरिया इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, लखनऊ में शुक्रवार से दो दिवसीय वार्षिक युवा उत्सव "ओजस-22" की शुरुआत हुई। इसकी शुरुआत संस्थान की निदेशक डॉ. कविता पाठक तथा प्रोफेसर रश्मी चौधरी, एसोसिएट डीन स्टूडेंट अफेयर्स ने दीप प्रज्ज्वलित कर की।

Lucknow jaipuria institute of management

पहले दिन के कार्यक्रमों में उद्घाटन समारोह, द इनविजिबल क्लोक, नुक्कड़ नाटक, द डेली प्रोफेट, द डिमेंटर्स, ऑलवेज! - द अनटोल्ड स्टोरी, क्विडडिच, द वॉयस ऑफ हॉगवर्ट्स, वन आइड विच, यूल बैटलग्राउंड, टॉम मार्वोलो रिडल, बैटल ऑफ बैंड्स, डीजे नाइट डीजे रेवेटर आदि शामिल रहे।

पहले दिन के मुख्य आकर्षण रहे नुक्कड़ नाटक, द वॉयस ऑफ हॉगवर्ट्स, तथा डीजे नाइट विथ डीजे रैवेटर द वॉयस ऑफ हॉगवर्ट्स एकल गायन प्रतियोगिता थी जिसमे प्रतिभागी क्लासिकल, सेमी क्लासिकल, वेस्टर्न, तथा बॉलीवुड थीम में से गाने चुन सकते थे।

अंतर्नाद नुक्कड़ नाटक का मुख्य प्रयास अंतरंग और प्रभावी वातावरण के बीच एक मनोरंजक वातावरण में सामाजिक संदेश देना था।

ढोलक, थपलियों के ज़रिये संस्थान के छात्रों ने कार्यस्थल पर महिलाओं के खिलाफ़ हिंसा के उन्मूलन का संदेश दिया। जयपुरिया इंस्टिट्यूट कल्चरल कमिटी के छात्र लालेश्वर दुबे ने कहा 'महिलाओं के खिलाफ़ हिंसा मानवाधिकारों का उल्लंघन है। किसी भी प्रकार की हिंसा का महिलाओं और लड़कियों पर तत्काल और दीर्घकालिक मानसिक व शारीरिक दुष्प्रभाव पड़ता है। हिंसा महिलाओं की सामान्य भलाई को नकारात्मक रूप से प्रभावित करती है और महिलाओं को समाज में पूरी तरह से भाग लेने से रोकती है। इसे रोकने के लिए आइए हम सब मिलकर आगे आएं और जरूरी कदम उठाएं"।

डीजे वटार के संगीत के साथ ओजस के पहले दिन का समापन हुआ। इस दौरान संस्थान तथा दुसरे कॉलेजों से आये छात्र काफी उत्साहित दिखे।

दूसरे दिन के मुख्य आकर्ण में सेलिब्रिटी नाइट विथ असीस कौर, ट्राइविजार्ड टूर्नामेंट, मंगल पेंटर्स, टाइम टर्नर, ओकुलस रेपारो, मारोडर मैप, ट्रान्स, रंगमंच, वेलेडिक्टरी, फैशनिस्ता, शामिल हैं।

Share this story