नाई की दुकानों पर बिना मास्क के करते हैं सेविंग, लगती है  भीड़ 

नाई की दुकानों पर बिना मास्क के करते हैं सेविंग, लगती है भीड़
 नहीं पालन कराया जा रहा है कोविड-19 का प्रोटोकॉल 

- कन्या प्राइमरी पाठशाला सालपुर के बगल नाइके दुकान पर सुबह से ही लगती है दर्जनों प्रवासी लोगों की भीड़ 

सालपुर / गोण्डा ।  जनपद में जहां एक तरफ  कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या प्रतिदिन सैकड़ों में निकल रही है वही कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करवाने वाले जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारी के प्रति लापरवाह बनकर प्रोटोकॉल का पालन नहीं करवा रहे हैं जिससे क्षेत्र में कोविड-19 संक्रमण फैलने की आशंका काफी प्रबल होती जा रही है।


देश में कोविड-19 की दूसरी लहर ज्यादा घातक बताई जा रही है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि महामारी की यह दूसरी लहर पहले से ज्यादा संक्रामक है। यानि कि यह तेजी से लोगों को अपनी चपेट में ले रही है। यहां तक कि इससे मृत्युदर भी पहले से संभवत: ज्यादा है। दूसरी लहर में बच्चे और युवा भी इसकी गिरफ्त में आ रहे हैं। दूसरी लहर से कोई भी आयु वर्ग अछूता नहीं है। कोरोना का टीका लगवाने के बाद भी लोग संक्रमित हो रहे हैं। यानि कि इस महामारी से सौ प्रतिशत सुरक्षा अभी नहीं है।  कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करके ही लोग अपने आप को सुरक्षित महसूस करने में सक्षम साबित हो रहे हैं । प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना कोतवाली देहात के सालपुर पुलिस चौकी के चंद कदमों की दूरी पर सालपुर बाजार मैं मित्र पुलिस कि मित्रवत कार्यशैली के कारण स्थानीय दुकानदार कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन नहीं कर रहे हैं स्थानीय पुलिस देख कर के भी उसे नजरअंदाज कर रही है जिससे बाजार व आसपास के क्षेत्रों में कोरोनावायरस ने की आशंकाएं प्रबल होती जा रहे हैं । सालपुर बाजार में कन्या प्राइमरी पाठशाला सालपुर के बगल नाई की दुकान पर आए दिन दर्जनों लोगों की भीड़ लगी रहती है जिसमें अधिकांश प्रवासी लोग हैं जो दूसरे राज्यों से पंचायत चुनाव में घर आए हुए हैं दुकानदार द्वारा दुकान में भीड़ जमा करने के साथ-साथ लोगों का दाढ़ी बाल काटते समय ना तो माक्स का प्रयोग किया जाता है नाही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाता है यही नहीं संबंधित दुकानदार द्वारा बाल दाढ़ी बनाते समय एक ही कपड़ा आदि का उपयोग बार-बार सभी लोगों पर किया जाता है जिससे करोड़ों संक्रमण फैलने की आशंकाएं काफी बनी रहती हैं। कुछ लोगों द्वारा दुकानदार से जब माक्स लगाने व दूरी बनाने के बारे में कहां गया तू उल्टे ही दुकानदार द्वारा लोगों को नसीहत का पाठ पढ़ाया जाने लगा और यह कहते सुना गया कि कोरोनावायरस कुछ नहीं है हम लोग इसी तरह से काम करते हैं और करेंगे । लोगों द्वारा जब यह कहा गया कि तुम्हारी शिकायत पुलिस वालों से होगी तो दुकानदार ने कहा कि पुलिस वालों से हम डरते थोड़े हैं मुझे इधर आते हैं सब कुछ देखते हैं आज तक हमको कभी उन्होंने टोका नहीं है जिसको शिकायत करनी हो कर के देख ले।
इस संबंध में चौकी इंचार्ज सालपुर कामेश्वर राय से दूरभाष पर कई बार संपर्क किया गया लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया । जिससे उनका पक्ष नहीं जा ना जा सका। वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में प्रवासी लोगों की घर वापसी हुई है जिसमें से काफी लोग मुंबई और दिल्ली से आए हुए हैं वह लोग सर्दी जुखाम बुखार खांसी आदि से पीड़ित भी हैं इधर शादी ब्याह का दौर शुरू होने के कारण नाई की दुकानों पर ऐसे लोगों का सुबह से जमवाड़ा लग जाता है । स्थानीय पुलिस दुकानों पर इकट्ठा भीड़ को देख कर के उसे नजरअंदाज करती है लेकिन इसका परिणाम क्षेत्रवासियों के हित में घातक हो सकता है ।

Share this story

Appkikhabar Banner29042021