पंचायत सदस्य बागी होकर लड़ चुनाव जीतने के बाद निष्कासन रद्द भाजपा में वापसी 

Bjp

रेनू सिंह ने निर्दलीय जीत है पंचायत सदस्य का चुनाव 

विधायक की भाभी हैं  रेनू सिंह 

Balrampur bjp news बलरामपुर। तुलसीपुर के पिपरहवा बिशनपुर सीट से नवनिर्वाचित निर्दलीय जिला पंचायत सदस्य रेनू सिंह ने पुनः वापसी कर भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। क्षेत्रीय अध्यक्ष शेष नारायण मिश्र ने रेनू सिंह का निष्कासन रद्द करते हुए भाजपा की सदस्यता ग्रहण कराई। बता दें कि नवनिर्वाचित जिला पंचायत सदस्य रेनू सिंह पूर्व जिला पंचायत सदस्य मिथिलेश सिंह की पत्नी है व गैसड़ी विधानसभा से विधायक शैलेश कुमार सिंह शैलू की भाभी हैं। रेनू सिंह पिपराहा बिशुनपुर सीट से जिला पंचायत सीट से निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर जीत हासिल की है। 

भाजपा जिला मीडिया प्रभारी डीपी सिंह बैस ने बताया कि क्षेत्रीय अध्यक्ष दूरभाष पर वार्ता के अनुसार जिला पंचायत सदस्य रेनू सिंह की भाजपा में वापसी करके भाजपा में शामिल कर लिया गया है। बता दे की जिला पंचायत चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी के विपक्ष में   पिपरहवा विशुनपुर सीट से चुनाव लड़ा था। पार्टी विरोध में चुनाव लड़ने के कारण उन्हें 6 वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया था। रेनू सिंह के चुनाव जीतने के बाद से ही कवायद लगाई जा रही थी की रेनू सिंह की वापसी दोबारा भाजपा में होगी।


बलरामपुर में जिला पंचायत अध्यक्ष सीट सामान्य वर्ग के लिए आरक्षित हुआ था इसके बाद से ही कई दिग्गजों ने अपने परिजनों को चुनाव लड़ा कर अध्यक्ष सीट के लिए दावेदारी की थी पंचायत चुनाव में जिले से समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने सबसे अधिक सीट जीती। जिसके बाद से ही भारतीय जनता पार्टी में अध्यक्ष पद के लिए दमदार प्रत्याशी की खोज कर रही थी। रेनू सिंह गैसड़ी विधायक शैलेश कुमार सिंह की भाभी है।  ऐसे में रेनू सिंह पर भाजपा अध्यक्ष पद के लिए दाव लगा सकती है।

जिले में जिला पंचायत अध्यक्ष चुनाव के लिए सभी पार्टियों ने तैयारी शुरू कर दी है। सीटों के आधार पर बसपा और सपा तालमेल से चुनाव लड़ेगी तो अध्यक्ष पद उन्हीं के खाते में जाएगा। वही सत्तारूढ़ पार्टी भारतीय जनता पार्टी को अध्यक्ष पद के लिए 15 और सदस्यों की जरूरत है। बता दें कि समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता व पूर्व मंत्री डॉ एस पी यादव ने पहले ही घोषणा कर दी है की अध्यक्ष पद पर सपा प्रत्याशी ही काबिज होगा। इसके पूर्व भी अध्यक्ष सीट सपा के पहलू में ही थी।


जिला पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी बलरामपुर में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। समाजवादी पार्टी इस चुनाव में जिला पंचायत सदस्य की 40 में से 11 सीटों पर जीत हासिल की वही। बहुजन समाज पार्टी ने 10 सीटों पर जीत हासिल किया। सत्तारूढ़  भारतीय जनता पार्टी जिला पंचायत में 6 सीटें ही हासिल कर पाई। वही कांग्रेस ने एक सीट पर कब्जा किया है। बता दें कि जिले की 40 सीटों में 12 निर्दल प्रत्याशियों ने  जीत हासिल की है।

Share this story