प्रदेश सरकार की कोशिश काम आई ,एक्टिव केसों में लगभग 1,60,000 से अधिक की कमी आयी 

प्रदेश सरकार की कोशिश काम आई ,एक्टिव केसों में लगभग 1,60,000 से अधिक की कमी आयी

 uttar pradesh covid news -सोमवार तक प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 9,391 कोविड के नये मामले आये हैं जो 30 अप्रैल, 2021 को 38,055 थे।ACS Home 

नवनीत सहगल द्वारा बताया गया कि कोविड के नये मामलों लगभग 29,000 की कमी आयी है।पिछले 24 घंटे में 23,045 लोग संक्रमणमुक्त हुए हैं।

अभी तक प्रदेश में कुल एक्टिव केस 1,49,032 हैं, जो 30 अप्रैल, 2021 को 3,10,783 थे।

इस प्रकार कुल एक्टिव केसों में लगभग 1,60,000 से अधिक की कमी आयी है

प्रदेश में टेस्टिंग 2.50 लाख से अधिक की जा रही है

गत एक दिन में 2,55,110 सैम्पल की जांच की गई है, जिसमें 1 लाख 4 हजार से अधिक जांच आरटीपीआर के माध्यम से की गई है

प्रदेश में अब तक 4 करोड़ 49 लाख 50 हजार जांच सैम्पल की जांच की गई है।

मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में कोविड-19 संक्रमण को नियंत्रित के लिए बनी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट की नीति के अच्छे परिणाम मिल रहे हैं

एग्रेसिव टेस्टिंग में नए केस लगातार कम आ रहे है, जबकि स्वस्थ होने वालों की संख्या में बढोत्तरी हो रही है

प्रदेश की रिकवरी दर अब लगभग 90 प्रतिशत हो गई है

प्रदेश में अब तक सर्विलांस टीम के माध्यम से 16.86 करोड़ की जनसंख्या का सर्वेक्षण किया गया है

सर्विलान्स के साथ-साथ गाँवों में लोगों से सम्पर्क करते हुए कोविड लक्षणयुक्त लोगों की पहचान कर उनका कोविड टेस्ट तथा उन्हें मेडिकल किट प्रदान की जा रही है

निगरानी समितियों के द्वारा गाँव में रहने वाले लोगों से सम्पर्क कर कोविड लक्षणों की जानकारी ली जा रही है

कोविड लक्षण मिलने वाले लोगों का आरआरटी टीम द्वारा एन्टीजन कोविड टेस्ट किया जा रहा है

निगरानी समितियों को लगभग 5 लाख मेडिकल किट उपलब्ध करायी गई है

गाँव में संक्रमणयुक्त लोगों को होम आइसोलेशन में रखने के लिए गाँव में ही पंचायत भवन/स्कूल/सरकारी इमारतों मंे आइसोलेट करके उनका उपचार किया जा रहा है

प्रदेश सरकार द्वारा गांवों में चलाये जा रहे इस अनूठे अभियान की तारीफ विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा नीति आयोग द्वारा की गयी है

श्री सहगल द्वारा बताया गया कि मुख्यमंत्री  द्वारा प्रदेश में चलाये जा रहे कोविड-19 के कार्यों का जमीनी स्तर पर जाकर निरीक्षण तथा जनपदों के अधिकारियों के साथ में समीक्षा बैठक भी की जा रही।

मुख्यमंत्री  द्वारा लगभग 16 मण्डलों में 35 जिलों का भ्रमण करते हुए निरीक्षण तथा समीक्षा की गई है

मुख्यमंत्री  आज कोविड-19 के दृष्टिगत सहारनपुर, मेरठ तथा मुजफ्फरनगर का भ्रमण तथा समीक्षा बैठक कर रहे हैं

मुख्यमंत्री  द्वारा कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने में लगे कोरोना योद्धाओं की हौसला अफजाई भी कर रहे हैं

मुख्यमंत्री  द्वारा टीम-9 की समीक्षा बैठक में ब्लैक फंगस बीमारी के संबंध में चर्चा की गई।

मुख्यमंत्री  के निर्देश पर प्रदेश स्तर पर बनी विशेषज्ञ चिकित्सक टीम को ब्लैक फंगस बीमारी के समुचित इलाज व्यवस्था एवं गाइडलाइन्स तैयार की गई।

दो दिन पूर्व ब्लैक फंगस बीमारी के सम्बन्ध में पीजीआई से सभी जिलों के चिकित्सकों का एक वर्चुअल प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया गया था

कोविड टीकाकरण की प्रक्रिया प्रदेश में सुचारु रूप से चल रही है

45 वर्ष से अधिक लोगों के साथ साथ 18-44 आयु वर्ग के लोगों को वैक्सीन लगायी जा रही है

अब तक 01 करोड़ 16 लाख लोगों ने पहली डोज और 32 लाख 61 हजार लोगों ने वैक्सीन की दोनों डोज प्राप्त कर ली है

इस तरह 01 करोड़ 49 लाख  कोविड वैक्सीन एडमिनिस्टर हुए हैं

वर्तमान में 18 जनपदों में 18-44 आयु वर्ग का टीकाकरण हो रहा है, अब अगले चरण में आज से प्रदेश के सभी मंडल मुख्यालय वाले सभी जिलों में भी इस आयु वर्ग का टीकाकरण किया जा रहा है

  1. अब तक 18 से 44 वर्ष के 4 लाख 14 हजार लोगों को वैक्सीन लगायी जा चुकी है
  2. प्रदेश के सभी नागरिकों का वैक्सीनेशन सरकारी अस्पतालों में निःशुल्क है।
  3. वैक्सीनेशन के लिए प्रदेश सरकार द्वारा ग्लोबल टेण्डर जारी किया गया है।


ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले लोगों को वैक्सीनेशन कराने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा काॅमन सर्विस सेन्टर में वैक्सीनेशन के पंजीकरण तथा वैक्सीन लगाने की व्यवस्था करनेे जा रही है

काॅमन सर्विस सेन्टर में कोविड-19 के वैक्सीनेशन से संबंधित पंजीकरण पूर्णतः निःशुल्क रहेगा

मुख्यमंत्री जी ने कोविड-19 की सम्भावित तीसरी लहर में बच्चो के स्वास्थ्य सुरक्षा के विशेष इंतजाम करने के उद्देश्य से सभी जिला अस्पतालों में पीडियाट्रिक आईसीयू को तैयार कराये जाने के निर्देश दिये है

प्रदेश के मेडिकल कालेजों में 100-100 बेड तथा जनपद के अस्पतालों में 20-20 बेड बच्चों के लिए आरक्षित किया जायेगा

प्रदेश में आक्सीजन पर्याप्त मात्रा में अस्पतालों को उपलब्ध करायी जा रही है

जिसके क्रम में कल अस्पतालों में 882 मीट्रिक टन से अधिक आक्सीजन की सप्लाई की गयी

प्रदेश में अब आॅक्सीजन की कोई कमी नहीं है

जनपदों में रहने वाले होम आइसोलेशन के कोविड मरीजों को आॅक्सीजन उपलब्ध करायी जा रही है

Share this story