UP अब total unlock मुख्यमंत्री योगी ने की घोषणा, कहा आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों को मिलेगा स्मार्टफोन 

योगी आदित्यनाथ

 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोक भवन, लखनऊ में कोविड नियंत्रण के संबंध में टीम-09 में शामिल अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश प्रदान किए।

उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में सोमवार से शुक्रवार तक सुबह 07 बजे से शाम 07 बजे तक बाजार खुलेंगे। आवागमन एवं अन्य गतिविधियां सामान्य रूप से संचालित हो सकेंगी। रात्रिकालीन बंदी और साप्ताहिक बंदी की व्यवस्था सभी जगह एक समान रूप से लागू होगी|

लगातार प्रयासों से प्रदेश में कोविड संक्रमण की स्थिति नियंत्रण में है। आज प्रदेश में कोई भी ऐसा जनपद नहीं है, जहां 600 से अधिक एक्टिव कोविड केस हों। ऐसे में सभी 75 जिलों को आंशिक कोरोना कर्फ्यू से छूट दी जा रही है|

प्रदेश में पॉजिटिविटी दर मात्र 0.2% रह गई है, जबकि रिकवरी दर बेहतर होकर 97.9% हो गई है। प्रदेश में कुल 14,067 कोरोना मरीजों का उपचार हो रहा है|बीते 24 घंटों में कोविड संक्रमण के 797 नए केस आए हैं। लगातार दो दिनों से दैनिक केस 1,000 से कम आ रहे हैं। इसी अवधि में 2,226 लोग स्वस्थ होकर डिस्चार्ज भी हुए हैं। अब तक कुल 16.64 लाख लोग कोरोना संक्रमण से स्वस्थ हो चुके हैं|

ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट' की नीति के अनुरूप हमें संतोषप्रद परिणाम मिल रहे हैं। उत्तर प्रदेश सर्वाधिक कोविड टेस्ट करने वाला राज्य है। अब तक 05 करोड़ 19 लाख 08 हजार 115 सैम्पल की टेस्टिंग हुई है|कोरोना से जिन बच्चों के माता-पिता का देहांत हुआ है, उनके लिए 'मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना' प्रारंभ की गई है। नॉन कोविड बीमारियों से जिन बच्चों के अभिभावकों का निधन हुआ है, उनके पालन-पोषण और शिक्षा-दीक्षा का भी समुचित प्रबन्ध किया जाना आवश्यक है|

आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को यथाशीघ्र स्मार्टफोन दिया जाए। डेटा अपलोडिंग आदि कार्य सुचारु हों, उनके प्रशिक्षण का कार्य भी हो। आंगनबाड़ी केंद्रों के लंबित निर्माण को भी तेजी से पूरा कराया जाए|

सीएम योगी आदित्यनाथ  ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  जी ने आगामी 21 जून से सभी आयु वर्ग के टीकाकरण के लिए केंद्र सरकार द्वारा वैक्सीन उपलब्ध कराने की घोषणा की है। उनका यह प्रयास टीकाकरण को और गति प्रदान करने वाला है| 

कोरोना वॉरियर्स, पुलिस कर्मी, अथवा किसी राज्य कर्मचारी की मृत्यु यदि कोविड संक्रमण से हुई हो तो विभाग द्वारा संबंधित परिवार के साथ संवेदनशीलता और सहानुभूतिपूर्वक यथोचित सहयोग किया जाए| 

Share this story