Top
Aap Ki Khabar

सामान न करना पड़े वापस बजाज कंपनी से किया धोखा पंहुचा जेल

चोरी का झूठा मुकदमा लिखाना पड़ा महंगा, दिग्विजय कांस्ट्रक्शन के प्रो. इंद्रजीत दूबे गिरफ्तार

सामान न करना पड़े वापस बजाज कंपनी से किया धोखा पंहुचा जेल
X

5 लाख रुपयों का चोरी का माल बरामद, आरोपी को न्यायालय के समक्ष किया गया प्रस्तुत

uttqr pradesh Gonda crime news गोंडा ।। जिले के खरगूपुर थाने में अज्ञात के विरूद्ध दर्ज कराये गये एक मुकदमे में चोरी का झूठा मुकदमा लिखाना वादी को बहुत महंगा पड़ गया।जिसकी हकीकत सामने आने पर पुलिस ने उल्टे वादी को गिरफ्तार कर और चोरी का सामान बरामद कर उसे जेल भेज दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार विगत 26 नवम्बर 2020 को वादी मुकदमा इन्द्रजीत दुबे पुत्र राजकुमार दुबे निवासी ग्राम पथवलिया थाना कोतवाली नगर जनपद गोण्डा द्वारा बिजली का सामान चोरी हो जाने के सम्बन्ध में जिले के खरगूपुर थाने में अज्ञात के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत कराया गया था तथा चोरी के उक्त प्रकरण को संज्ञान में लेते हुये पुलिस अधीक्षक शैलेश कुमार पाण्डेय द्वारा पुलिस को मामले के शीघ्र खुलासे का निर्देश दिया गया था।





एसपी के उक्त निर्देश के क्रम में विवेचना के दौरान सौभाग्य योजना के अंतर्गत ग्राम जानकी नगर पोखरा में ग्रामीण विद्युतीकरण का कार्य दिग्विजय काॅन्सट्रक्शन के प्रोपराइटर इन्द्रजीत दूबे द्वारा कराया गया पाया गया। इतना ही नहीं कार्य के बाद शेष बचे विद्युत उपकरणों को बजाज इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड द्वारा वापस जमा कराने हेतु प्रोपराइटर इन्द्रजीत को नोटिस जारी की गयी थी। परन्तु प्रोपराइटर द्वारा बचे हुए सामान कीमत (लगभग 5 लाख रुपए) को जमा न करके बल्कि एक षड्यंत्र के तहत मौके से सामान लाकर अपने घर के पीछे छुपा दिया था,तथा कुछ सामान कबाड़ियों को बेच देने का मामला प्रकाश में आया।




अपने को बचाने की नीयत से मनगढ़न्त तरीके से थाना खरगूपुर में लिखवाया गया था चोरी का झूठा मुकदमा --

उपरोक्त मामले में पुलिस द्वारा सतर्कता पूर्वक अभियुक्त इन्द्रजीत दुबे को गिरफ्तार कर उसकी निशानदेही से उक्त सामानों को बरामद किया गया तथा उसे न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

Next Story
Share it