Vaccination में काम आ रहा है UPCM का Innovative Approach ,3 और जिलों को मिली राहत 

Navneet sehgal ACS Public relation and  Information UP file footage

Navneet sehgal ACS file photo 

मुख्यमंत्री  की कोरोना की दूसरी लहर पर नियंत्रण पाने की जो रणनीति रही है
वह संतोषजनक एवं सफल होती दिखाई दे रही है

3 टी के फार्मूले के साथ-साथ आंशिक कोरोना कफ्र्यू एवं टीकाकरण का कॉन्सेप्ट लागू किया गया है.

ACS सूचना एवं जनसंपर्क विभाग नवनीत सहगल ने बताया कि  जीवन और जीविका बचाने की दृष्टि से मुख्यमंत्री द्वारा आंशिक कोरोना कफ्र्यू में भी औद्योगिक गतिविधियां जारी रहीं

औद्योगिक इकाइयां, आवश्यक वस्तुओं की आवाजाही, दवा की दुकानें, राशन की दुकानें चलती रहे, किसानों से खरीद चलती रही, किसानों के काम चलते रहे तथा किसानों की खाद बीज की उपलब्धता भी चलती रही

मुख्यमंत्री जी ने सामान्य आर्थिक गतिविधियों पर भी ध्यान देने, प्रदेश सरकार के रोजगार कार्यक्रम को आगे बढ़ाने, नई इकाइयों को बैंकों से समन्वय कराकर ऋण उपलब्ध कराने, नए निवेशों की संभावनाओं पर कार्य किए जाने के निर्देश दिए गए हैं, जिससे कि प्रदेश की आर्थिक प्रगति में तेजी लाई जा सके

इसके साथ-साथ राशन वितरण भी चलता रहा, चीनी मिलें भी चलती रही तथा किसानों का गन्ना भुगतान भी होता रहा

इस नये मॉडल का मुख्यतः उद्देश्य लोगों की गैरजरूरी आवाजाही को रोकना था

मुख्यमंत्री जी द्वारा 3टी का फार्मूला दिया गया, जिसके अंतर्गत 97,000 निगरानी समितियां गांव-गांव, घर-घर जा रही हैं तथा परिवार के प्रत्येक सदस्य का हाल-चाल जान रही हैं

किसी को संक्रमण है तो उसका टेस्ट कराया जा रहा है तथा निःशुल्क मेडिकल किट उपलब्ध कराई जा रही है

सभी अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाई गई है, विशेषकर ऑक्सीजनयुक्त बेड की संख्या बढ़ाई गई है जो अपने आपमें एक मिसाल है

प्रदेश में 80 हजार आॅक्सीजनयुक्त और आईसीयू बेड अस्पतालों में बढ़ाए गए हैं

मुख्यमंत्री जी ने संभावित तीसरी लहर से बचाव के संबंध में प्रो-एक्टिव नीति अपनाई है, जिसके तहत सभी मेडिकल कॉलेजों में 100-100 बेड के पीआईसीयू के, हर जिला अस्पताल में 25 से 30 बेड पीआईसीयू के और कम से कम 2 सीएचसी में पीआईसीयू, पीकू के बेड बढ़ाने के निर्देश

प्रदेश में ऑक्सीजन की समुचित व्यवस्था हेतु 417 अस्पतालों में नये आॅक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं, जहां हवा से ऑक्सीजन बनायी जाएगी

लगभग 61 ऑक्सीजन प्लांट चालू हो गए हैं, शेष पर तेजी से कार्य चल रहा है

प्रदेश में टेस्ट की संख्या बढ़ा दी गई है, पिछले 10 दिनों से औसतन
3.50 लाख टेस्ट किए जा रहे हैं

आज भी 3.23 लाख से अधिक टेस्ट किए गए, इसमें से लगभग आधे टेस्ट आरटीपीसीआर द्वारा किए गये हैं

प्रदेश में कोरोना के मामले लगातार घट रहे हैं

प्रदेश में सक्रिय मामलों की संख्या 90 प्रतिशत तक घटकर न्यूनतम स्तर पर पहुँची

जहां उत्तर प्रदेश से छोटे राज्यों में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं, वहीं उत्तर प्रदेश
में मामलों का घटना एक मिसाल जिन जनपदों में कोरोना के 600 से कम एक्टिव मामले हैं, वहां 01 जून से कोरोना कफ्र्यू में छूट दी गई है

आज भी 03 जनपदों लखीमपुर खीरी, जौनपुर तथा गाजीपुर में 600 से कम एक्टिव केस होने पर कोरोना कफ्र्यू में छूट दी गई है

इनोवेटिव एप्रोच के साथ कोरोना से लड़ाई लड़ी गई है, तीसरी लहर को देखते हुए वैक्सीनेशन में एक नया इनोवेशन किया गया है

जिसके तहत 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के अभिभावकों को सबसे पहले वैक्सीनेशन किया जाएगा, इसके लिए 200 से अधिक अलग बूथ बनाए गए हैं

सरकार द्वारा कोरोना कफ्र्यू के दौरान रोज खाने कमाने वाले तथा गरीबों के खाने की व्यवस्था के लिए 565 कम्युनिटी किचन बनाए गए.

अब तक लगभग 10 लाख से अधिक फूड पैकेट तैयार कर गरीबों में वितरित किये जा चुके हैं

प्रदेश सरकार किसानों के हितों के लिए कृत संकल्पित है

किसानों के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उनकी फसल को खरीदे जाने की प्रक्रिया कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए तेजी से चल रही है

अब तक लगभग 09 लाख किसानों से 40,50,740.83 मी0टन गेहूं खरीद की जा चुकी

Share this story