अईपीएल : गायकवाड़ ने कहा, 99 रन पर आउट होना खिलाड़ी के लिए हमेशा निराशाजनक होता है

अईपीएल : गायकवाड़ ने कहा, 99 रन पर आउट होना खिलाड़ी के लिए हमेशा निराशाजनक होता है
अईपीएल : गायकवाड़ ने कहा, 99 रन पर आउट होना खिलाड़ी के लिए हमेशा निराशाजनक होता है पुणे, 2 मई (आईएएनएस)। चेन्नई सुपर किंग्स के सलामी बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने कहा कि 99 रन पर आउट होना खिलाड़ी के लिए हमेशा निराशाजनक होता है, लेकिन रविवार को एमसीए स्टेडियम में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ जीत में योगदान देने के साथ वह शतक नहीं लगाने से मिली निराशा को भूल गए।

गायकवाड़ की 57 गेंदों में 99 रन और डेवोन कॉनवे की 55 गेंदों की नाबाद 85 रनों की पारी ने टीम को दो विकेट खोकर 202 रन बनाने में मदद की।

सीएसके द्वारा दिए गए लक्ष्य का पीछा करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद ने छह विकेट खोकर 189 रन बनाए, जिसमें टीम ने 13 रन से मैच को गंवा दिया। गायकवाड़ 18वें ओवर में आउट हुए और एक रन से शतक से चूक गए। गायकवाड़ और कॉनवे के बीच रिकॉर्ड तोड़ 182 रन की साझेदारी हुई।

गायकवाड़ ने कहा, 99 रन पर आउट होने से मुझे थोड़ा दुख हुआ, लेकिन मुझे खुशी है कि मैंने जीत में योगदान दिया।

गायकवाड़ ने आईपीएल टी20 डॉट कॉम के हवाले से कहा कि, अपने घरेलू मैदान पर बड़ा स्कोर बनाना हमेशा खास होता है, लेकिन इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि मैं खुश हूं क्योंकि मैंने टीम की जीत में योगदान दिया है। परिवार और दोस्तों के सामने खेलकर मुझे अच्छा लगा।

दाएं हाथ के बल्लेबाज ने आगे कॉनवे की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्हें उनके साथ बल्लेबाजी करने में मजा आया। गायकवाड़ ने कहा, हमारे बीच पहले से ही ऑफ-फील्ड बातचीत हुई थी और शुक्र है कि हमने बहुत अच्छी साझेदारी निभाई।

--आईएएनएस

एचएमए/एएनएम

Share this story