अफगान संकट विदेशी मूल्यों को थोपने की वजह से : पुतिन

अफगान संकट विदेशी मूल्यों को थोपने की वजह से : पुतिन
अफगान संकट विदेशी मूल्यों को थोपने की वजह से : पुतिन मास्को, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने गुरुवार को कहा कि अफगानिस्तान में मौजूदा संकट देश पर बाहर से विदेशी मूल्यों को थोपने की गैर-जिम्मेदाराना कोशिशों का प्रत्यक्ष परिणाम है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, वीडियो लिंक के माध्यम से 13 वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन को संबोधित करते हुए, पुतिन ने स्थानीय लोगों की ऐतिहासिक और राष्ट्रीय विशेषताओं के साथ-साथ उनकी परंपराओं को ध्यान में रखे बिना सामाजिक-राजनीतिक इंजीनियरिंग द्वारा तथाकथित लोकतांत्रिक ढांचे का निर्माण करने की विदेशी इच्छा को इंगित किया।

उन्होंने कहा कि रूस ने अफगानिस्तान में लंबे समय से प्रतीक्षित शांति और स्थिरता की स्थापना की लगातार वकालत की है और उम्मीद करता है कि अफगानिस्तान आतंकवाद और मादक पदार्थों की तस्करी के मामले में अपने पड़ोसियों के लिए खतरा नहीं होगा।

पुतिन ने कहा, अंतर्राष्ट्रीय संबंधों के शांतिपूर्ण और प्रगतिशील विकास को प्राप्त करने के लिए, यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि विभिन्न राजनीतिक और सामाजिक प्रणालियों, राष्ट्रीय हितों और आध्यात्मिक और नैतिक मूल्यों वाले देश सह-अस्तित्व में सक्षम हों।

उन्होंने कहा, वैश्विक स्तर पर पारस्परिक रूप से सम्मानजनक, रचनात्मक और प्रभावी बातचीत को बनाए रखना और विकसित करना भी महत्वपूर्ण है, ताकि उभरती हुई बहु-ध्रुवीय प्रणाली को मजबूत किया जा सके जिसमें आर्थिक विकास और राजनीतिक प्रभाव के स्वतंत्र केंद्र शामिल हैं।

--आईएएनएस

आरएचए/

Share this story