अमेरिका के शिनच्यांग कानून का उद्देश्य, शिनच्यांग का उपयोग कर चीन को दबाना है

अमेरिका के शिनच्यांग कानून का उद्देश्य, शिनच्यांग का उपयोग कर चीन को दबाना है
अमेरिका के शिनच्यांग कानून का उद्देश्य, शिनच्यांग का उपयोग कर चीन को दबाना है बीजिंग, 23 जून (आईएएनएस)। पूर्व अमेरिकी समय के अनुसार, 21 जून को, अमेरिकी सीमा शुल्क और सीमा सुरक्षा ब्यूरो ने तथाकथित उइगुर जबरन श्रम रोकथाम अधिनियम के तहत चीन के शिनच्यांग उइगुर स्वायत्त प्रदेश में उत्पादित सभी उत्पादों को तथाकथित जबरन श्रम से संबंधी उत्पाद माना और शिनच्यांग से संबंधित किसी भी उत्पाद के आयात को प्रतिबंधित किया। अमेरिका द्वारा झूठ पर आधारित यह कार्रवाई बाजार के आर्थिक नियमों का उल्लंघन करती है। उसका वास्तविक उद्देश्य व्यापार में चीन को अलग करना है, वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला से शिनच्यांग और यहां तक कि पूरे चीन को बाहर करना है, ताकि तथाकथित शिनच्यांग का उपयोग कर चीन का दमन साकार हो सके।

अमेरिका दुनिया भर में सबसे बड़ा उपभोग बाजार है। शिनच्यांग से संबंधित सभी उत्पादों को अस्वीकार करना उसके लिए वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला को काटने की तरह है। शिनच्यांग में उत्पादित कपास और पॉलीसिलिकॉन को उदाहरण लें, शिनच्यांग का लॉन्ग-स्टेपल कपास अच्छी गुणवत्ता और उचित मूल्य का है, जो कई अंतरराष्ट्रीय ब्रांडों की पहली पसंद है। इसके साथ ही शिनच्यांग दुनिया की पॉलीसिलिकॉन उत्पादन क्षमता का लगभग आधा योगदान देता है, और अमेरिका 85 प्रतिशत सौर पैनल उत्पादन के लिए चीन पर निर्भर है। इन दोनों उत्पादों को अस्वीकार किया गया, तो दुनिया में अमेरिका के लिए इनका स्थान लेने वाली उचित वस्तुओं को पाना मुश्किल होगा, और भुगतान की जाने वाली कीमत बढ़ती मुद्रास्फीति और बढ़ती आपूर्ति श्रृंखला संकट पैदा करेगी।

इतना ही नहीं, शिनच्यांग से संबंधित इस बुरे कानून से शिनच्यांग से कच्चे माल का उपयोग करने वाले उत्पादों और उइगुर कर्मचारियों को रोजगार देने वाले व्यवसायों पर कु-प्रभाव पड़ता है। मतलब है कि अमेरिका न केवल शिनच्यांग के उत्पादों का बहिष्कार करना चाहता है, बल्कि चीन से अलग होना और वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला से अलग होना चाहता है।

आज के वैश्वीकरण में शिनच्यांग के उत्पादों और कच्चे माल को वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला को कवर करते हुए दुनिया के कई स्थानों पर निर्यात किया जाता है। उइगुर श्रमिक उद्यमों के उत्पादन में व्यापक रूप से भाग ले रहे हैं और बेहतर जीवन के लिए प्रयास कर रहे हैं। लेकिन अमेरिका ने केवल तथाकथित जबरन श्रम वाले झूठ को गढ़ा है। वह शिनच्यांग से संबंधित सभी उत्पादों का बहिष्कार करना चाहता है, जो वास्तव में खुद को बंद करना और वैश्विक बाजार से आत्म-अलगाव करना ही है। अमेरिका की यह कार्रवाई वास्तव में दुनिया से, अवसरों से और भविष्य से अलग करना है। वह वैश्विक औद्योगिक श्रृंखला से आत्म-अलगाव में तेजी लाता है। समय बताएगा कि इतिहास को उलटने और दूसरे लोगों के रास्ते को अवरुद्ध करने की कोशिश करने से अंत में केवल आपका रास्ता अवरुद्ध होगा।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

एएनएम

Share this story