अमेरिकी निजी कलेक्टर कंबोडिया को लौटाएगा लूटी गई 28 प्राचीन वस्तुएं

अमेरिकी निजी कलेक्टर कंबोडिया को लौटाएगा लूटी गई 28 प्राचीन वस्तुएं
अमेरिकी निजी कलेक्टर कंबोडिया को लौटाएगा लूटी गई 28 प्राचीन वस्तुएं नोम पेन्ह, 13 जनवरी (आईएएनएस)। कंबोडिया ने कहा है कि एक अमेरिकी निजी कलेक्टर ने 28 लूटी गई कंबोडियाई सांस्कृतिक कलाकृतियों को वापस करने पर सहमति व्यक्त की है।

संस्कृति और ललित कला मंत्रालय ने बुधवार को एक प्रेस बयान में कहा कि प्राचीन वस्तुओं में से एक बड़ी गणेश मूर्ति है, जिसे कोह केर मंदिर के प्रसात बाक मंदिर से माना जाता है।

बयान में कहा गया है कि 2020 में, इसे एंटीक्विटीज गठबंधन द्वारा दुनिया में शीर्ष 10 सबसे ज्यादा लूटी गई मूर्तियों में से एक के रूप में सूचीबद्ध किया गया था।

कंबोडिया के संस्कृति और ललित कला मंत्री फोउरंग सैकोना ने एक बयान में कहा कि गणेश की यह मूर्ति हमारे पूर्वजों की प्रतिभा का एक और आश्चर्यजनक उदाहरण है। हाथी के सिर वाले हिंदू देवता गणेश व्यापक रूप से बाधाओं को दूर करने के लिए अपनी बुद्धि और शक्ति के लिए जाने जाते हैं और इसकी घर वापसी कंबोडिया के लिए एक महत्वपूर्ण अवसर होगा।

सिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, अन्य कलाकृतियों में सातवीं-आठवीं शताब्दी की बलुआ पत्थर की बुद्ध की मूर्ति, 10वीं शताब्दी के हिंदू भगवान विष्णु और हिंदू देवी लक्ष्मी की 10वीं शताब्दी की कांस्य प्रतिमा शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि यह प्रत्यावर्तन हमारे पूर्वजों की आत्माओं को खोजने और वापस लाने के लिए कंबोडिया की निरंतर प्रतिबद्धता को दशार्ता है, जो युद्ध की अवधि के दौरान कई वर्षों में अपनी मातृभूमि से चले गए थे।

मंत्री ने कहा कि हम अन्य निजी संग्रहकर्ताओं और संग्रहालयों को इस निजी कलेक्टर के फैसले का पालन करने और सही मालिक को प्रत्यावर्तन पर चर्चा करने के लिए हमसे संपर्क करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं।

--आईएएनएस

एमएसबी/आरजेएस

Share this story