आंध्र प्रदेश में तेदेपा नेता की हत्या के आरोप में 8 गिरफ्तार

आंध्र प्रदेश में तेदेपा नेता की हत्या के आरोप में 8 गिरफ्तार
आंध्र प्रदेश में तेदेपा नेता की हत्या के आरोप में 8 गिरफ्तार अमरावती, 14 जनवरी (आईएएनएस)। आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में पुलिस ने तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) के नेता थोटा चंद्रैया की हत्या के मामले में आठ लोगों को गिरफ्तार किया है।

गुंटूर जिले के पुलिस अधीक्षक विशाल गुनी ने शुक्रवार को आरोपियों की गिरफ्तारी की घोषणा की है।

गुरुवार को वेल्डुरथी मंडल के गुंडलापाडु गांव में हमलावरों के एक समूह ने विपक्षी दल के 42 वर्षीय नेता की बेरहमी से हत्या कर दी थी।

तेदेपा नेता दोपहिया वाहन से जा रहे थे, तभी हमलावरों ने उन पर चाकुओं, लाठियों और पत्थरों से हमला कर दिया। घटना सुबह सात बजे से साढ़े सात बजे के बीच हुई और तेदेपा नेता की मौके पर ही मौत हो गयी।

एसपी ने बताया कि पीड़िता के बेटे की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने मौके से सुराग जुटाकर अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए चार टीमें गठित की हैं।

घटना के 24 घंटे के भीतर पुलिस ने आठ आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। एसपी के मुताबिक मुख्य आरोपी चिंता शिवरमैया है। अन्य आरोपी ई. कोटैया, एस. रघुराम राव, एस. रामकोटेश्वर राव, चिंता श्रीनिवास राव, थोटा अंजनेयुलु, थोटा शिवनारायण और चिंता आदिनारायण हैं।

मुख्य आरोपी मंडल स्तर का जनप्रतिनिधि है और कथित तौर पर सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस पार्टी का है।

पुलिस के मुताबिक, शिवरमैया और चंद्रैया के बीच सीमेंट रोड बनाने को लेकर विवाद हो गया था। जांच से यह भी पता चला कि गुरुवार की घटना से पहले, शिवरमैया एक समारोह में गए थे, जहां कुछ ग्रामीणों ने उन्हें बताया कि चंद्रैया उनकी हत्या की साजिश रच रहा है।

शिवरमैया ने सात अन्य लोगों की मदद ली और चंद्रैया की कथित योजना को अंजाम देने से पहले ही उसकी हत्या कर दी। पुलिस के मुताबिक सभी आरोपी एक ही जाति के हैं।

हत्या से गुरुवार को गांव में तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी। तेदेपा अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने गांव का दौरा किया था और मारे गए नेता के अंतिम संस्कार में शामिल हुए थे।

नायडू ने इसे राजनीतिक हत्या बताया था। उन्होंने आरोप लगाया कि वाईएसआरसीपी के अराजक शासन में तेदेपा के कई पदाधिकारियों की जान चली गई। उन्होंने कहा कि वाईएसआरसीपी कुशासन के खिलाफ आवाज उठा रहे तेदेपा नेताओं और कार्यकर्ताओं की हत्या कर रही है। उन्होंने कहा कि अकेले गुंटूर जिले के पलनाडु क्षेत्र में दसियों तेदेपा नेता और कार्यकर्ता मारे गए।

--आईएएनएस

एचके/आरजेएस

Share this story