एकल जातीय समूह वाली तालिबान सरकार लंबे समय तक नहीं चलेगी-सलाहुद्दीन

एकल जातीय समूह वाली तालिबान सरकार लंबे समय तक नहीं चलेगी-सलाहुद्दीन
एकल जातीय समूह वाली तालिबान सरकार लंबे समय तक नहीं चलेगी-सलाहुद्दीन नई दिल्ली, 8 सितम्बर (आईएएनएस)। अफगानिस्तान की दूसरी सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी जमीयत-ए-इस्लामी के प्रमुख सलाहुद्दीन रब्बानी ने तालिबान की कार्यवाहक सरकार पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि एक जातीय समूह से बनी सरकार लंबे समय तक नहीं चलेगी।

खामा न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार सलाहुद्दीन रब्बानी ने अपने फेसबुक पोस्ट पर लिखा है कि सत्ता का एकाधिकार अतीत में अनुभव किया गया है जो हार गया था और इस कैबिनेट के साथ तालिबान भी धूल खाएगा।

पूर्व विदेश मंत्री ने एक अज्ञात जगह से पोस्ट लिखा था क्योंकि वह तालिबान के अधिग्रहण से पहले अफगानिस्तान से इस्लामाबाद भाग गए थे, और पाकिस्तानी अधिकारियों का कहना है कि उन्होंने उस देश को भी छोड़ दिया है।

रब्बानी ने कहा कि तालिबान ने एक सर्व-समावेशी सरकार स्थापित करने का वादा किया था जो कि उनके नए मंत्रिमंडल में बिल्कुल भी नहीं दिखाई देती है और तालिबान पर कबायली चरमपंथी होने का आरोप लगाया।

बयान में कहा गया है, अफगानिस्तान के लोग कभी भी उन शासनों को स्वीकार नहीं करेंगे जो बल के माध्यम से थोपे गए हैं और मौजूदा अवांछनीय स्थिति को बदलने के लिए संघर्ष करेंगे।

रिपोर्ट में कहा गया है कि रब्बानी ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय और विशेष रूप से क्षेत्रीय देशों से तालिबान की मान्यता के लिए जल्दबाजी न करने का आह्वान किया है क्योंकि सरकार अफगानिस्तान के सभी वर्गों और जातीय समूहों का प्रतिनिधित्व नहीं करती है।

अफगानिस्तान के इस्लामिक अमीरात ने मंगलवार (7 सितंबर) को 33 सदस्यीय कार्यवाहक कैबिनेट की घोषणा की जिसमें कोई महिला नहीं दिख रही है।

--आईएएनएस

आरजेएस

Share this story