किर्गिस्तान के राष्ट्रपति ने वांग यी से मुलाकात की

किर्गिस्तान के राष्ट्रपति ने वांग यी से मुलाकात की
किर्गिस्तान के राष्ट्रपति ने वांग यी से मुलाकात की बीजिंग, 31 जुलाई (आईएएनएस)। किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सदिर जापरोव ने 30 जुलाई को चोलपोन-अंटा में चीनी विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात की।

जापरोव ने वांग यी से चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग को स्नेहपूर्ण अभिवादन पहुंचाने को कहा। उन्होंने कहा कि किर्गिस्तान हमेशा चीन के साथ दोस्ती को संजोता है और देश की संप्रभुता और सुरक्षा की रक्षा करने, आर्थिक विकास को तेज करने और जन-जीवन में सुधार करने में किर्गिस्तान को ²ढ़ समर्थन और मूल्यवान सहायता देने के प्रति चीन का आभारी है। दोनों पक्षों के संयुक्त प्रयासों से किर्गिस्तान और चीन चतुर्मुखी रणनीतिक साझेदार बन गये, जो पड़ोसी देशों के बीच अच्छे-पड़ोसी संबंधों और अच्छी दोस्ती की मिसाल कायम करता है।

किर्गिस्तान चीन के मूल हितों से जुड़े सभी मुद्दों पर चीन के साथ मजबूती से खड़ा रहेगा। किर्गिस्तान चीन के साथ एक-दूसरे की विकास रणनीतियों के डॉकिंग को गहरा करने, द्विपक्षीय आर्थिक, व्यापारिक और निवेश सहयोग का विस्तार करने और सांस्कृतिक आदान-प्रदान बढ़ाने को तैयार है। किर्गिस्तान चीन-किर्गिस्तान-उज्बेकिस्तान रेलवे को बेल्ट एंड रोड के सहनिर्माण का एक महत्वपूर्ण हिस्सा मानता है।

वहीं, वांग यी ने चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग की ओर से स्नेहपूर्ण अभिवादन देते हुए कहा कि इस साल फरवरी में दोनों राष्ट्राध्यक्षों के बीच सफल वार्ता ने द्विपक्षीय संबंधों में मजबूत शक्ति लगायी है। किर्गिस्तान और चीन पहाड़ों और नदियों से जुड़े हैं। राजनीतिक स्थिरता, सामाजिक स्थिरता और नीतिगत स्थिरता बनाए रखना किर्गिस्तान के देश और लोगों के हितों के अनुरूप है और अपने विकास और पुनरोद्धार को तेज करने में किर्गिस्तान को मदद मिलती है, जो कि चीन की ईमानदार इच्छा भी है।

चीन किर्गिस्तान का अपनी राष्ट्रीय संप्रभुता, सुरक्षा और विकास हितों की रक्षा में ²ढ़ता से समर्थन करना जारी रखेगा, किर्गिस्तान के आंतरिक मामलों में किसी भी शक्ति के हस्तक्षेप का ²ढ़ता से विरोध करता रहेगा, और हमेशा किर्गिस्तान का भरोसेमंद और विश्वसनीय भागीदार रहेगा।

वांग यी ने जोर देते हुए कहा कि दोनों पक्षों के अथक प्रयासों से चीन और किर्गिस्तान सच्चे अच्छे पड़ोसी, अच्छे दोस्त, अच्छे साझेदार और अच्छे भाई बन गए हैं। दोनों देशों के बीच रणनीतिक समन्वय को मजबूत करना और चीन-किर्गिस्तान चतुमुर्खी रणनीतिक साझेदारी को और उच्च स्तर पर पहुंचाना दोनों देशों के मौलिक हितों और लोगों की आम अपेक्षाओं के अनुरूप है।

चीन किर्गिस्तान के साथ द्विपक्षीय संबंधों की स्थापना की 30वीं वर्षगांठ के मौके पर साझा भाग्य समुदाय के सहनिर्माण करने, रणनीतिक आपसी विश्वास को मजबूत करने, अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय मामलों में समन्वय को मजबूत करने को तैयार है, ताकि द्विपक्षीय संबंधों के अगले स्वर्णिम 30 वर्षों की शुरूआत की जा सके।

उसी दिन वांग यी ने किर्गिस्तान के विदेश मंत्री कुरुबायेव से भी बातचीत की।

(साभार--चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)

--आईएएनएस

आरएचए/

Share this story