चीन-आसियान व्यापक रणनीतिक साझेदारी इतिहास में एक नया मील का पत्थर है

चीन-आसियान व्यापक रणनीतिक साझेदारी इतिहास में एक नया मील का पत्थर है
चीन-आसियान व्यापक रणनीतिक साझेदारी इतिहास में एक नया मील का पत्थर है बीजिंग, 22 नवंबर (आईएएनएस)। चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने 22 नवंबर को वीडियो लिंक के जरिए चीन-आसियान वार्ता संबंधों की 30वीं वर्षगांठ शिखर सम्मेलन में भाग लिया और मेजबानी की। उन्होंने मुख्य भाषण भी दिया। चीनी विदेश मंत्री के सहायक वू ज्यांग ने साक्षात्कार देते हुए कहा कि यह इस साल चीन की सबसे महत्वपूर्ण पड़ोसी कूटनीतिक कार्रवाई है, राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने पहली बार आसियान देशों के नेताओं के साथ सामूहिक बैठक की। शिखर सम्मेलन में दोनों पक्षों के नेताओं ने चीन-आसियान संबंधों को व्यापक रणनीतिक साझेदारी में बढ़ावा देने की घोषणा की, दोनों पक्षों के बीच संबंधों के इतिहास में यह एक नया मील का पत्थर है।

उन्होंने यह भी कहा कि पिछले 30 वर्षों में चीन-आसियान संबंध तेजी से विकसित हो हुए हैं, जो कि दोनों पक्षों की जनता के लिए लाभदायक है, और क्षेत्रीय व विश्व शांति, स्थिरता और समृद्धि में सकारात्मक योगदान भी दिया है।

वर्तमान अंतर्राष्ट्रीय परिवर्तन और महामारी की वजह से क्षेत्रीय विकास में कई जटिल कारक हैं। शिखर सम्मेलन में दोनों ने भविष्य के संबंधों के विकास की दिशा, विभिन्न क्षेत्रों में समन्वय और सहयोग को गहराने और साझा भविष्य के साथ एक घनिष्ठ समुदाय के निर्माण आदि पहलूओं पर आठ आम सहमति प्राप्त कीं।

(साभार----चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)

--आईएएनएस

एएनएम

Share this story