चीन पेलोसी की थाईवान यात्रा की कड़ी निंदा करता है और ²ढ़ता से प्रतिक्रिया देगा

चीन पेलोसी की थाईवान यात्रा की कड़ी निंदा करता है और ²ढ़ता से प्रतिक्रिया देगा
चीन पेलोसी की थाईवान यात्रा की कड़ी निंदा करता है और ²ढ़ता से प्रतिक्रिया देगा बीजिंग, 4 अगस्त (आईएएनएस)। 2 अगस्त को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने चीन द्वारा किये गये कड़े विरोध की उपेक्षा कर चीन के थाईवान क्षेत्र की यात्रा की, जिसने गंभीर रूप से एक चीन सिद्धांत और चीन व अमेरिका के बीच तीन संयुक्त विज्ञप्तियों का उल्लंघन किया है, चीन-अमेरिका संबंधों के राजनीतिक आधार को बर्बाद किया है, चीन की प्रभुसत्ता और प्रादेशिक अखंडता को नुकसान पहुंचाया है, थाईवान जल्डमरूमध्य की शांति व स्थिरता को नष्ट किया है, और थाईवान स्वतंत्रता विभाजन शक्ति को गंभीर गलत संदेश भेजा है। इस के प्रति चीन ²ढ़ता से इस की प्रतिक्रिया देगा। चीन की कार्रवाई निष्पक्ष, आवश्यक और वैध है। और इससे पैदा सभी परिणामों की जिम्मेदारी अमेरिका और थाईवान स्वतंत्रता विभाजन शक्ति को उठानी पड़ेगी।

पेलोसी की थाईवान यात्रा के बाद चीनी विदेश मंत्रालय, स्टेट कॉसिलर व विदेश मंत्री वांग यी, एनपीसी की स्थाई कमेटी के प्रवक्ता, चीनी राज्य परिषद के थाईवान मामलात कार्यालय, सीपीपीसीसी की विदेशी मामलात कमेटी, चीनी रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने प्रथम समय पर बयान जारी कर चीन के रुख पर प्रकाश डाला। सभी ने इसका ²ढ़ विरोध किया, और कड़ी निंदा की।

इसकी चर्चा में चीनी अंतर्राष्ट्रीय मामला अनुसंधान प्रतिष्ठान के अधीन अमेरिका मामला अनुसंधान संस्था की उप निदेशक सू श्याओह्वेई ने कहा कि चीन के कई विभागों ने एक साथ आवाज उठाई है, जिससे देश के केंद्रीय हितों पर चीन का महत्वपूर्ण रुख जाहिर हुआ है। चीन के प्रति राष्ट्रीय एकता एक आवश्यक प्रक्रिया ही है। यह प्रक्रिया थाईवान स्वतंत्रता शक्ति से नहीं रुक जाएगी। साथ ही, बाहरी शक्ति के हस्तक्षेप से वह भी नहीं बदलेगी।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

एएनएम

Share this story