धोनी ही नहीं सभी ने इस विकेट पर संघर्ष किया : फ्लेमिंग

धोनी ही नहीं सभी ने इस विकेट पर संघर्ष किया : फ्लेमिंग
धोनी ही नहीं सभी ने इस विकेट पर संघर्ष किया : फ्लेमिंग दुबई, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के मुख्य कोच स्टेफन फ्लेमिंग ने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मिली तीन विकेट से हार के बाद कहा कि इस पिच पर स्ट्रोक खेलना कठिन था और बड़े शॉट लगाने के लिए काफी प्रयास की जरूरत पड़ रही थी।

दिल्ली ने सीएसके को 20 ओवर में पांच विकेट पर 136 रन के स्कोर पर रोका और फिर अंतिम ओवर में दो गेंदें शेष रहते मुकाबला जीता।

फ्लेमिंग ने कहा कि सिर्फ सीएसके के कप्तान ही नहीं बल्कि दोनों टीमों के खिलाड़ियों को बड़ा स्कोर बनाने के लिए संघर्ष करना पड़ा।

फ्लेमिंग ने कहा, महेंद्र सिंह धोनी एकमात्र बल्लेबाज नहीं थे जिन्होंने संघर्ष किया। स्ट्रोक लगाने के लिए यह कठिन पिच थी। जब 137 रन बनाना मुश्किल हो रहा हो ऐसे में बड़े शॉट्स खेलने के लिए यह कठिन था। पारी के अंत में दोनों टीमों ने संघर्ष किया।

उन्होंने कहा, फिलहाल जो दिक्कत है वो यह कि तीनों ग्राउंड में विभिन्न वातावरण में ढलना और पहले बल्लेबाजी करते हुए बड़ा स्कोर खड़ा करना। यहां इरादे की कमी नहीं थी और हमने कुछ गलतियां की। दिल्ली की टीम का अंतिम पांच ओवर में गेंदबाजी आक्रमण बेहतरीन था।

फ्लेमिंग ने कहा कि टूर्नामेंट के अंतिम पड़ाव पर आकर लगातार दो हार मिलना टीम के लिए खतरे की घंटी है।

--आईएएनएस

एसकेबी/आरजेएस

Share this story