नरेंद्रनगर में आज से तीन दिवसीय जी20 समिट, विदेशी मेहमानों का पारंपरिक स्वागत

नरेंद्रनगर में आज से तीन दिवसीय जी20 समिट, विदेशी मेहमानों का पारंपरिक स्वागत
ऋषिकेश, 25 मई (आईएएनएस)। उत्तराखंड के नरेंद्रनगर में गुरुवार से जी20 की बैठक शुरू हो रही है। तीन दिवसीय जी20 समिट में शामिल होने के लिए विदेशी मेहमान पहुंच चुके हैं। जी-20 सदस्य देशों का 62 सदस्यों का प्रतिनिधिमंडल नरेन्द्रनगर स्थित वेस्टिन होटल पहुंचा तो वहां विदेशी मेहमानों का चंदन टीका लगाकर पुष्प वर्षा, तुलसी की माला एवं पहाड़ी टोपी पहनाकर स्वागत किया गया।

इससे पहले प्रतिनिधि मंडल में आए मेहमानों का जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर तिलक लगाकर स्वागत किया गया था। विदेशी मेहमान राज्य की लोक संस्कृति एवं जीवन शैली से रूबरू होते दिखे। प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने एयरपोर्ट परिसर में राज्य की स्थानीय लोक संस्कृति कार्यक्रम का लुत्फ उठाया। नृत्य में भी शामिल हुए और तस्वीरें खिंचवाई।

इसके बाद प्रतिनिधि मंडल मेहमानों को फ्लीट की अगुवाई के साथ वाहनों के माध्यम से नरेंद्रनगर के लिए रवाना किया गया। मार्ग में स्थानीय लोगों, महिलाओं, एवं विद्यालय के छात्र छात्राओं ने उत्सव की तरह फूल वर्षा एवं राष्ट्रीय ध्वज फहरा कर हर्ष उल्लास के साथ जी 20 सम्मेलन में प्रतिभाग करने पंहुचे विदेशी मेहमानों का गर्मजोशी से स्वागत किया।

ऋषिकेश के पास नरेंद्रनगर में 25 मई से 27 मई तक जी 20 शिखर सम्मेलन है। यहां होने वाली समिट का विषय भ्रष्टाचार निरोधी कार्य है। बुधवार शाम पहुंचे प्रतिनिधिमंडल में सऊदी अरब, कनाडा, साउथ अफ्रीका, इंडोनेशिया, टर्की, नाइजीरिया, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, यूनाइटेड किंगडम, जर्मनी, कोरिया, जापान तथा इनवाइटी देश में इजिप्ट, बांग्लादेश, ओमान, मॉरिशस के प्रतिनिधिमंडल का आगमन हुआ।

टिहरी डीएम डॉ. सौरभ गहरवार ने बताया कि समिट के लिए रूस, फ्रांस, जर्मनी, जापान, इटली, कनाडा, इंग्लैंड, यूरोपियन यूनियन, संयुक्त राज्य अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, ब्राजील, चीन, इंडोनेशिया, मेक्सिको, दक्षिण कोरिया, दक्षिण अफ्रीका देशों के डेलीगेट्स यहां पहुंच गए हैं। आज वेस्टिन होटल में एंटी करप्शन वकिर्ंग ग्रुप की द्वितीय बैठक आहूत होगी। इसमें करप्शन फ्री वल्र्ड पर गहन चर्चा होगी। रात को वेस्टिन होटल में सीएम, मंत्रिमंडल के सदस्यों के साथ डेलीगेट्स गाला डिनर करेंगे। डिनर में उत्तराखंड के पारंपरिक पकवानों को विशेष रूप से परोसा जाएगा।

--आईएएनएस

स्मिता/एसकेपी

Share this story