पांचवां टेस्ट रद्द होने के बाद इंग्लिश मीडिया ने लगाए भारतीय खिलाड़ियों पर आरोप

पांचवां टेस्ट रद्द होने के बाद इंग्लिश मीडिया ने लगाए भारतीय खिलाड़ियों पर आरोप
पांचवां टेस्ट रद्द होने के बाद इंग्लिश मीडिया ने लगाए भारतीय खिलाड़ियों पर आरोप नई दिल्ली, 10 सितम्बर (आईएएनएस)। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के मैनचेस्टर में होने वाले पांचवें टेस्ट मैच को रद्द करने के फैसले के बाद इंग्लिश मीडिया ने भारतीय खिलाड़ियों पर आरोप लगाए हैं।

भारत और इंग्लैंड के बीच पांचवां मैच शुरू होने से कुछ देर पहले ही इस मैच को भारतीय कैंप में कोरोना के मामले सामने आने के कारण रद्द कर दिया गया।

भारतीय टीम के फिजियो योगेश परमार बुधवार रात कोरोना पॉजिटिव पाए गए। उनसे पहले मुख्य कोच रवि शास्त्री और अन्य दो कोचिंग स्टाफ भी इसकी चपेट में आए।

इस पर डेली मेल ने अपनी रिपोर्ट में कहा, एक भी खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव नहीं आया तो भारत ने खेलने से इनकार क्यों किया? भारत के खिलाड़ी 19 सितंबर से संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में आकर्षक इंडियन प्रीमियर लीग में शामिल होने के लिए बेताब हैं। ऐसा लगता है उन्होंने अपने प्री-मैच प्रशिक्षण सत्र को रद्द करने और अपने होटल के कमरों में अलग-थलग करने की सावधानी बरती।

रिपोर्ट में कहा, भारतीय मुख्य कोच शास्त्री ने लंदन के एक होटल में पूरे भारतीय दल के साथ एक व्यस्त पुस्तक लॉन्च में भाग लिया जिसके बाद वह कोरोना पॉजिटिव पाए गए।

इस बीच, बीबीसी का भी मानना है कि इसके रद्द होने का आईपीएल के साथ कुछ लेना-देना हो सकता है। उनकी रिपोर्ट में कहा, यह काफी विचित्र है क्योंकि कल रात सभी खिलाड़ियों ने अपने पीसीआर परीक्षण पास कर लिए थे। हम यह सोचकर सो गए थे कि मैच होगा।

दिलचस्प बात यह है कि केविन पीटरसन, माइकल वॉन और वसीम जाफर जैसे कुछ पूर्व क्रिकेटरों ने बताया कि इंग्लैंड ने भी कोरोना के डर से दक्षिण अफ्रीका का दौरा छोड़ दिया था।

--आईएएनएस

एसकेबी

Share this story