पाकिस्तान बिजली कटौती में विदेशी हस्तक्षेप की जांच करेगा

पाकिस्तान बिजली कटौती में विदेशी हस्तक्षेप की जांच करेगा
इस्लामाबाद, 24 जनवरी (आईएएनएस)। पाकिस्तान के ऊर्जा मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने मंगलवार को कहा कि अधिकारी देशभर में बिजली गुल होने की वजह का पता नहीं लगा पाए हैं। कहा गया है कि संघीय सरकार इसमें विदेशी हस्तक्षेप की संभावना की भी जांच करेगी। मीडिया रिपोर्टों में यह जानकारी दी गई।

ट्रांसमिशन सिस्टम में फ्रीक्वेंसी वेरिएशन के कारण हुई बिजली की बड़ी खराबी ने सोमवार को सुबह करीब 7:30 बजे देश के बड़े इलाकों को प्रभावित किया।

द न्यूज ने बताया कि देर रात तक बिजली पूरी तरह से बहाल नहीं हुई थी, जिससे पाकिस्तान में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया था, कई शहरों में बिजली नहीं थी।

दस्तगीर ने मंगलवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, चिंताएं हैं, और इसकी जांच की जानी चाहिए कि क्या हमारी बिजली वितरण प्रणाली को हैक करके कोई विदेशी हस्तक्षेप किया गया था।

मंत्री ने कहा कि इंटरनेट के माध्यम से विदेशी हस्तक्षेप की संभावना कम है, हालांकि मामले की जांच की जाएगी, क्योंकि हाल ही में कई घटनाएं हुई हैं।

दस्तगीर ने कहा कि प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने तीन सदस्यीय जांच समिति का गठन किया है, जिसकी अध्यक्षता पेट्रोलियम राज्यमंत्री मुसादिक मलिक करेंगे।

उन्होंने कहा कि बिजली की कमी होगी और नागरिकों को अगले 48 घंटों में बिजली कटौती का सामना करना पड़ेगा, यह कहते हुए कि गुरुवार तक सिस्टम पूरी तरह से बहाल हो जाएगा।

दस्तगीर ने यह भी कहा कि पूरे पाकिस्तान में नेशनल ट्रांसमिशन एंड डिस्पैच कंपनी (एनटीडीसी) के 1,112 ग्रिड स्टेशनों को बहाल कर दिया गया है।

--आईएएनएस

एसजीके/एएनएम

Share this story