पिछले हफ्ते यूरोप में 70 लाख ओमिक्रॉन मामलों का पता चला : डब्ल्यूएचओ

पिछले हफ्ते यूरोप में 70 लाख ओमिक्रॉन मामलों का पता चला : डब्ल्यूएचओ
पिछले हफ्ते यूरोप में 70 लाख ओमिक्रॉन मामलों का पता चला : डब्ल्यूएचओ ब्रसेल्स, 11 जनवरी (आईएएनएस)। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मंगलवार को कहा कि जनवरी के पहले हफ्ते में पूरे यूरोप में ओमिक्रॉन वेरिएंट के 70 लाख से अधिक नए मामले सामने आए।

द टेलीग्राफ ने बताया कि डब्ल्यूएचओ यूरोप के निदेशक हैंस क्लूज के अनुसार, 26 देशों ने बताया कि उनकी आबादी का 1 प्रतिशत से अधिक प्रत्येक सप्ताह कोविड से संक्रमित हो रही है।

क्लूज ने वाशिंगटन विश्वविद्यालय में इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ मेट्रिक्स के अनुमानों का हवाला दिया, जिसमें अनुमान लगाया गया था कि पश्चिमी यूरोप की आधी आबादी अगले छह से आठ सप्ताह में कोविड से संक्रमित हो जाएगी।

एक मीडिया ब्रीफिंग में उनके हवाले से कहा गया, ओमिक्रॉन किसी भी (पिछले) वेरिएंट की तुलना में तेजी से और व्यापक रूप से फैल रहा है।

क्लूज ने देशों से घर के अंदर मास्क के उपयोग को अनिवार्य करने और टीकाकरण को प्राथमिकता देने का आह्वान किया, जिसमें स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और बुजुर्गों सहित जोखिम वाली आबादी की बूस्टर खुराक शामिल है।

इसके अलावा, उन्होंने कहा कि जैसे ही ओमिक्रॉन यूरोपीय महाद्वीप में पूर्व की ओर बढ़ता है, तो वेरिएंट कम टीकाकरण कवरेज दर वाले देशों पर बहुत अधिक असर पड़ेगा।

क्लूज ने बताया कि डेनमार्क में कोविड अस्पताल में भर्ती होने की दर उन लोगों की तुलना में छह गुना अधिक थी, जिन्हें टीका नहीं लगाया गया था।

डब्ल्यूएचओ के प्रमुख ट्रेडोस अदनोम घेब्येयियस ने पहले अमीर देशों से बूस्टर खुराक की पेशकश नहीं करने और उन्हें गरीब देशों को दान करने के लिए कहा था, जहां कमजोर समूहों का टीकाकरण होना बाकी है।

उन्होंने कहा, कोई भी देश महामारी से निकलने के रास्ता को पुख्ता नहीं कर सकता। मौजूदा टीके डेल्टा और ओमिक्रॉन दोनों रूपों के खिलाफ प्रभावी हैं।

--आईएएनएस

एचके/एसजीके

Share this story