फर्जी ट्रैवल वेबसाइट के जरिए लोगों को ठगने वाला दिल्ली का शख्स गिरफ्तार

फर्जी ट्रैवल वेबसाइट के जरिए लोगों को ठगने वाला दिल्ली का शख्स गिरफ्तार
फर्जी ट्रैवल वेबसाइट के जरिए लोगों को ठगने वाला दिल्ली का शख्स गिरफ्तार नई दिल्ली, 30 जुलाई (आईएएनएस)। एक 33 वर्षीय व्यक्ति को फर्जी ट्रैवल वेबसाइट बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया, जिसके जरिए उसने फ्लाइट बुकिंग के बहाने लोगों को ठगा। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी।

दिल्ली के द्वारका इलाके के रहने वाले अविरल रावल फर्जी वेबसाइट को गूगल सर्च में लाने के लिए सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (एसईओ) तकनीक का भी इस्तेमाल कर रहे थे।

पुलिस उपायुक्त, आईएफएसओ-विशेष प्रकोष्ठ, के.पी.एस. मल्होत्रा ने कहा कि उन्हें शिकायत मिली थी कि डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट ट्रेवललुक डॉट इन नाम की फर्जी वेबसाइट फ्लाइट बुक करने के बहाने लोगों को ठग रही है।

डीसीपी ने कहा, शिकायत को दर्ज कर लिया गया और कानून की उचित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया।

जांच के दौरान, डोमेन का तकनीकी विश्लेषण किया गया । पीड़ित के बैंक खातों के विश्लेषण के माध्यम से, पुलिस ने पाया कि लेनदेन विंग इन ट्रैवल एडवाइजरी प्राइवेट लिमिटेड के खाते में जमा किए गए थे।

डीसीपी ने कहा, वित्तीय जांच में यह पाया गया कि कथित व्यक्ति गूगल सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन की सुविधा का इस्तेमाल कर रहे थे और उनकी वेबसाइट को सर्च रिजल्ट में सबसे ऊपर दिखाया जा रहा था।

तकनीकी जांच के जरिए डिजिटल फुटप्रिंट्स और मैनुअल सर्विलांस हासिल किए गए। पुलिस ने तब आरोपी व्यक्ति की पहचान की। मल्होत्रा ने कहा, एक छापेमारी की गई और आरोपी अविरल रावल को गिरफ्तार कर लिया गया।

लगातार पूछताछ के दौरान रावल ने खुलासा किया कि 2017 में उन्होंने विंग इन ट्रैवल एडवाइजरी के नाम से अपनी खुद की कंपनी शुरू की थी। उन्होंने एक डोमेन खरीदा और रियायती टिकट उपलब्ध कराने के बहाने जनता को ठगना शुरू कर दिया।

अधिकारी ने कहा, पैसे प्राप्त करने के बाद, वह ग्राहकों को मेल करता था कि टिकट प्रोसेस नहीं किया जा सकता है और पैसा 4-5 कार्य दिवसों के भीतर वापस कर दिया जाएगा, लेकिन उसने कभी किसी को पैसे वापस नहीं किए।

--आईएएनएस

आरएचए/एएनएम

Share this story