फिजी ने कोरोना को रोकने के लिए तमाम उपायों को किया सख्त

फिजी ने कोरोना को रोकने के लिए तमाम उपायों को किया सख्त
फिजी ने कोरोना को रोकने के लिए तमाम उपायों को किया सख्त सुवा, 10 जनवरी (आईएएनएस)। फिजी सरकार ने दक्षिण प्रशांत द्वीप देश में कोरोना के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन को फैलने से रोकने के लिए कड़े कदम उठाए हैं।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, यहां संवाददाताओं को संबोधित करते हुए, वाणिज्य, व्यापार, पर्यटन और परिवहन मंत्री फैयाज कोया ने कहा कि देश में ओमिक्रॉन वेरिएंट के तेजी से फैलने की पुष्टि के साथ, वायरस के खिलाफ प्रमुख उपायों को कड़ा किया जा रहा है।

मंत्री के अनुसार, स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का पालन करने में विफल रहने वालों पर सोमवार से जुर्माना लगाया जाएगा।

कोया ने कहा कि जो लोग मास्क नहीं लगाएंगे उन पर 250 फिजी डॉलर (117 डॉलर) का जुर्माना लगाया जाएगा।

तापमान जांच करने में विफल रहने पर, व्यक्तियों के लिए 250 फिजी डॉलर और व्यवसायों के लिए 1,000 फिजी डॉलर का जुर्माना लगाया जाएगा।

टीकाकरण की स्थिति को सत्यापित करने में विफल रहने वाले उच्च जोखिम वाले व्यवसायों को 1,000 फिजी डॉलर का जुर्माना देना होगा।

मजबूत किए जाने वाले अन्य उपायों में सोमवार से, घरों, समुदायों और सामुदायिक हॉलों में समूह की सभा 20 व्यक्तियों तक सीमित होगी।

कोया ने कहा कि अगर आवश्यक हो तो अधिकारी लोगों पर जुर्माना लगाने या होटल सहित व्यवसाय बंद करने में संकोच नहीं करेंगे।

मंत्री ने फीजीवासियों से बूस्टर शॉट लेने का भी आग्रह किया।

इस बीच, स्वास्थ्य मंत्रालय के स्थायी सचिव जेम्स फोंग ने पिछले 24 घंटों में 5 नई मौतों की सूचना दी, जिससे कोरोना की कुल मौतों की संख्या बढ़कर 709 हो गई।

कोरोना के 1,280 नए पुष्ट मामलों के साथ, द्वीप राष्ट्र की संक्रमण संख्या बढ़कर 57,187 तक पहुंच गई है।

वर्तमान में, फिजी में 94.2 प्रतिशत वयस्क लक्षित आबादी को पूरी तरह से टीका लगाया गया है, जबकि 97.9 प्रतिशत ने कम से कम एक खुराक मिली है।

फिजी की लगभग 900,000 की आबादी है, वहां कोरोना का पॉजिटिव पहला मामला मार्च 2020 में दर्ज किया गया था।

यह देश पिछले साल अप्रैल में दूसरी लहर की चपेट में आ गया था।

--आईएएनएस

एसएस/आरजेएस

Share this story