फिरौती के लिए किडनैप किये गये बीआईटी मेसरा के रिटायर्ड प्रोफेसर को पुलिस ने मुक्त कराया, तीन गिरफ्तार

फिरौती के लिए किडनैप किये गये बीआईटी मेसरा के रिटायर्ड प्रोफेसर को पुलिस ने मुक्त कराया, तीन गिरफ्तार
फिरौती के लिए किडनैप किये गये बीआईटी मेसरा के रिटायर्ड प्रोफेसर को पुलिस ने मुक्त कराया, तीन गिरफ्तार रांची, 27 जुलाई (आईएएनएस)। फिरौती के लिए किडनैप किये गये रांची के मेसरा स्थित बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी के रिटायर्ड प्रोफेसर सुप्रियो कुमार को पुलिस ने मुक्त करा लिया है। इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। बुधवार को रांची पुलिस ने एक प्रेस कांफ्रेंस में पूरे मामले का खुलासा किया।

सिटी एसपी अंशुमन कुमार ने बताया कि अपहरण का यह प्लान बीआईटी के कर्मचारी शंकर महतो ने रचा था। उसने बीते सोमवार को शंकर रिटायर्ड प्रोफेसर सुप्रियो कुमार दास को अपने घर खाने पर आमंत्रित किया था। प्रो. दास यहां अकेले रहते हैं। उनके परिवार में कोई नहीं हैं। लंच के लिए घर लाने के नाम पर शंकर ने उन्हें एक वैन पर बिठाया और अनगड़ा थाना क्षेत्र के राजाडेरा गांव में एक कमरे में लाकर कैद कर लिया। इसमें अनिल कुमार मिश्रा और भोला कुमार ने उसका सहयोग किया। फिर प्रो. दास को धमकाकर उनसे उनका एटीएम और चेकबुक हासिल कर लिया। चेकबुक पर उनसे हस्ताक्षर करवाकर उनके खाते से करीब 4 लाख रुपये की निकासी कर ली। अपहर्ताओं ने उनकी रिहाई के एवज में और पैसे वसूलने के इरादे से उनके मकान मालिक और असम में उनके रिश्तेदारों के यहां फोन भी किया था।

इस बीच पुलिस को किसी ने इस बारे में सूचित किया। रांची सदर थाने की पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए प्रोफेसर को मुक्त करा लिया और तीनों आरोपियों शंकर महतो, अनिल कुमार मिश्र, और भोला कुमार को गिरफ्तार कर लिया। अपहरण के लिए इस्तेमाल में लायी गयी वैन, मोटरसाइकिल, चाकू और मोबाइल भी बरामद की गयी है।

--आईएएनएस

एसएनसी/एएनएम

Share this story