बिहार: शराब कारोबार में लिप्त आरोपी को छुड़ाने के लिए ग्रामीणों ने छापेमारी टीम पर बोला हमला, 6 घायल

बिहार: शराब कारोबार में लिप्त आरोपी को छुड़ाने के लिए ग्रामीणों ने छापेमारी टीम पर बोला हमला, 6 घायल
बिहार: शराब कारोबार में लिप्त आरोपी को छुड़ाने के लिए ग्रामीणों ने छापेमारी टीम पर बोला हमला, 6 घायल पटना, 3 अगस्त (आईएएनएस)। मुजफ्फरपुर जिले के दामोदरपुर गांव में बुधवार को देशी शराब बनाने और बेचने में कथित तौर पर शामिल एक बुजुर्ग को गिरफ्तार करने की कोशिश करना आबकारी विभाग के अधिकारियों और पुलिस के लिए भारी पड़ गया।

जैसे ही छापेमारी टीम आरोपी को गिरफ्तार करने पहुंची, तभी ग्रामीणों ने हमला कर टीम के छह सदस्यों को घायल कर दिया।

आबकारी विभाग की एक टीम को सूचना मिली थी कि दामोदरपुर गांव में देशी शराब बनाई और बेची जा रही है। इसके बाद इस अवैध धंधे से जुड़े ऑपरेटरों की गिरफ्तारी को लेकर छापेमारी के लिए एक बड़ी टीम गठित की गई, जिसमें आबकारी विभाग के साथ ही पुलिस भी शामिल थी।

आबकारी विभाग के एक निरीक्षक रैंक के अधिकारी ने कहा, हम गांव पहुंचे और देशी शराब के निर्माण और बिक्री में उसकी अवैध संलिप्तता के आरोप में जामुन सिंह (78) नामक व्यक्ति को गिरफ्तार किया। लौटते समय, महिलाओं सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने हमें घेर लिया और उसकी रिहाई की मांग की। हमारे मना करने पर उन्होंने हम पर हमला बोल दिया और वे गिरफ्तार किए गए व्यक्ति को अपने साथ ले गए।

इस हमले में महिलाओं समेत छह पुलिसकर्मी घायल हो गए। अधिकारी ने दावा किया कि गांव में की गई छापेमारी जिले में जहरीली शराब की त्रासदी से बचने के लिए निवारक उपायों का हिस्सा थी।

इस बीच ग्रामीणों ने दावा किया कि पुलिस और आबकारी टीम ने गलत तरीके से जामुन सिंह को फंसाया है।

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Share this story