भाजपा सांसद के धरने के बाद पुलिस ने दुर्घटना मामले में प्राथमिकी दर्ज की

भाजपा सांसद के धरने के बाद पुलिस ने दुर्घटना मामले में प्राथमिकी दर्ज की
जयपुर, 23 मई (आईएएनएस)। भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा के सोमवार को डीजीपी उमेश मिश्रा के आवास के बाहर धरने पर बैठने के बाद राजस्थान में पुलिस ने एक वाहन के चालक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की, जिसने कथित तौर पर एक परिवार के चार सदस्यों को कुचल दिया था।

कोठकवाड़ा में हुए हादसे की प्राथमिकी दर्ज नहीं कराने को लेकर मीणा सोमवार को मृतक के परिजनों के साथ धरने पर बैठ गए।

गंगा में अस्थि विसर्जन कर हरिद्वार से आ रहे एक परिवार के चार लोगों की मौत पेड़ के नीचे विश्राम कर रहे एक तेज रफ्तार वाहन की चपेट में आने से हो गई थी।

ग्रामीणों ने चालक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने और परिवार को मुआवजा देने की मांग को लेकर धरना दिया था।

हालांकि सोमवार तक पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज नहीं की थी।

यह जानने पर कि मीणा धरने पर बैठे हैं, पुलिस ने एक जीप चालक के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया, जो कथित तौर पर फरार है।

मामला दर्ज होने के बाद भाजपा नेता पीड़ित परिवार के सदस्यों के साथ कोठकवाड़ा गए, जहां मीणा और प्रशासन के बीच मांगों को लेकर चर्चा हुई।

मीणा ने पीड़ित परिवार को 2 लाख रुपये नकद सौंपे, वहीं विधायक वेद प्रकाश सोलंकी ने भी पीड़ित परिवार को अपना 2 महीने का वेतन देने की घोषणा की।

सरकार की ओर से 10 लाख रुपये का चेक भी सौंपा गया, जिसके बाद परिजन शवों को अंतिम संस्कार के लिए घर ले जाने को तैयार हुए।

यह भी निर्णय लिया गया कि मृतक के परिवार के एक सदस्य को संविदा पर नौकरी देने तथा मृतक व्यक्तियों के परिवार को विभिन्न सरकारी योजनाओं के लाभ के साथ-साथ प्रधानमंत्री आवास योजना में आवास स्वीकृत किया जाए।

--आईएएनएस

एसजीके

Share this story