मंगलुरु विस्फोट: इस्लामिक संगठन ने ली जिम्मेदारी, एक और हमले की दी चेतावनी

मंगलुरु विस्फोट: इस्लामिक संगठन ने ली जिम्मेदारी, एक और हमले की दी चेतावनी
मंगलुरु विस्फोट: इस्लामिक संगठन ने ली जिम्मेदारी, एक और हमले की दी चेतावनी बेंगलुरू, 24 नवंबर (आईएएनएस)। एक अज्ञात इस्लामिक संगठन इस्लामिक रेसिस्टेंस काउंसिल (आईआरसी) ने गुरुवार को 19 नवंबर को मंगलुरु ऑटो विस्फोट की जिम्मेदारी ली और भविष्य में एक और हमले की चेतावनी दी।

जांच एजेंसियों ने इस घटनाक्रम को गंभीरता से लिया है और आतंकी नेटवर्क की जड़ों तक पहुंचने के लिए अभियान तेज कर दिया है।

आईआरएस ने एक बयान में गिरफ्तार आतंकी संदिग्ध को अपना भाई बताया और कहा कि मंगलुरु शहर के कादरी में एक मंदिर उनका टारगेट था।

बयान में कहा गया है, मंगलुरु भगवा आतंकवादियों का गढ़ बन गया है। हालांकि इस बार हमारे प्रयास विफल रहे हैं, हम राज्य और केंद्रीय जांच एजेंसियों को चकमा देकर एक और हमला करने के लिए तैयार होंगे।

हमारे भाई का कादरी हिंदू मंदिर पर हमला करने का प्रयास विफल रहा है। यह हमला सफल नहीं हुआ। राज्य और केंद्रीय एजेंसियां हमारे भाइयों को गिरफ्तार करने की कोशिश कर रहे हैं। वे उनका पीछा कर रहे हैं। हालांकि, हम एजेंसियों के चंगुल से निकलने में सफल रहे हैं। भविष्य में, एक और हमला किया जाएगा।

कूकर विस्फोट मामले को वैश्विक आतंकी साजिश का हिस्सा मानने वाली एजेंसियां अब इस्लामिक संगठन के दावे की पुष्टि कर रही हैं।

गौरतलब है कि धमाका 19 नवंबर को एक ऑटो में हुआ था। कूकर बम को तटीय क्षेत्र और राज्य में सांप्रदायिक तनाव को भड़काने के लिए बड़े पैमाने पर हमले के लिए डिजाइन किया गया था।

जांच से पता चला कि हमलावर ने शुरू में मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई के कार्यक्रम को निशाना बनाया और बाद में आरएसएस से संबद्ध संस्थानों में से एक द्वारा आयोजित बच्चों के उत्सव में विस्फोट करना चाहता था।

गृह मंत्री अरागा ज्ञानेंद्र ने घोषणा की है कि मामला जल्द ही एनआईए को सौंप दिया जाएगा।

--आईएएनएस

पीके/एएनएम

Share this story