महरौली हत्याकांड: आफताब का जल्द होगा लाई डिटेक्टर टेस्ट

महरौली हत्याकांड: आफताब का जल्द होगा लाई डिटेक्टर टेस्ट
महरौली हत्याकांड: आफताब का जल्द होगा लाई डिटेक्टर टेस्ट नई दिल्ली, 22 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली के महरौली इलाके में अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की हत्या करने और उसके शरीर को 35 टुकड़ों में काटने के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला का पॉलीग्राफ टेस्ट अगले दो दिनों के भीतर रोहिणी में फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) में होने की संभावना है। सूत्रों ने मंगलवार को बताया।

पॉलीग्राफ टेस्ट की कॉपी के आदेश की जांच के लिए मंगलवार को एफएसएल के अधिकारी प्रोटोकॉल के तहत कोर्ट भी गए। अदालत में, न्यायाधीश ने पुलिस को सच्चाई का पता लगाने के लिए पॉलीग्राफ टेस्ट कराने की अनुमति दी, जबकि एक अन्य अदालत ने आफताब की पुलिस हिरासत चार और दिनों के लिए बढ़ा दी।

सूत्रों ने आईएएनएस को बताया कि पुलिस टीमें अगले चार दिनों के भीतर दोनों परीक्षण- पॉलीग्राफ और नार्को- करने की कोशिश करेंगी। इस बीच, दिल्ली पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा ने मंगलवार शाम दक्षिणी दिल्ली डीसीपी के कार्यालय का दौरा किया, जहां उन्होंने जांच अधिकारियों से बात की और चल रही जांच का जायजा लिया।

सूत्रों के मुताबिक, जांचकर्ताओं को अब तक जुटाए गए सबूतों के बिंदुओं को जोड़ना होगा, क्योंकि वह अभियुक्त द्वारा दिए गए बयान के आधार पर जांच समाप्त नहीं कर सकते। सूत्रों ने कहा, मामले पर कई एजेंसियां काम कर रही हैं और हम अदालत में एक सामूहिक रिपोर्ट दाखिल करेंगे। फॉरेंसिक सबूतों के आधार पर चार्जशीट फाइल की जाएगी

श्रद्धा के शरीर के अंगों की तलाश के लिए आफताब को दो तालाबों पर भी ले जाया जाएगा, एक महरौली के जंगल में और दूसरा मैदानगढ़ी में। रविवार को पुलिस टीमों ने महरौली के जंगल से और मानव अवशेष बरामद किए थे। उन्होंने अब तक 18 शरीर की हड्डियों को फॉरेंसिक जांच के लिए भेजा है, जिसमें एक खोपड़ी का आधार और एक कटा हुआ जबड़ा शामिल है।

यह पता लगाने के लिए कि हड्डियां श्रद्धा की हैं या नहीं, डीएनए विश्लेषण के लिए उसके पिता और भाई के रक्त के नमूने लिए गए हैं। हालांकि, खून से सने कपड़े और अपराध के हथियार अभी तक बरामद नहीं हुए हैं।

--आईएएनएस

केसी/एएनएम

Share this story