महामारी के दौरान खिलाड़ियों ने प्रतिस्पर्धा के माहौल में खुद को ढाल लिया है : थॉमस बाख

महामारी के दौरान खिलाड़ियों ने प्रतिस्पर्धा के माहौल में खुद को ढाल लिया है : थॉमस बाख
महामारी के दौरान खिलाड़ियों ने प्रतिस्पर्धा के माहौल में खुद को ढाल लिया है : थॉमस बाख बीजिंग, 11 जनवरी (आईएएनएस)। अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के अध्यक्ष थॉमस बाख ने हाल ही में जर्मन मीडिया को दिए एक इन्टरव्यू में कहा कि शीतकालीन ओलंपिक के क्वालीफाइंग आयोजनों में कोरोना महामारी के दौरान खिलाड़ियों ने विशेष प्रतिस्पर्धा के माहौल में खुद को ढाल लिया है।

जर्मन अखबार रविवार की दुनिया ने 9 जनवरी को बाख के साथ किए गए एक विशेष साक्षात्कार पर एक लेख प्रकाशित किया। इन्टरव्यू के दौरान बाख ने कहा कि चीन महामारी के खिलाफ लड़ाई में गतिशील शून्य वाली नीति लागू करता है, जिससे महामारी के प्रत्येक स्थानीय प्रकोप पर जल्द ही अंकुश लगाया जा सकता है।

बाख ने यह भी कहा कि उन्होंने एक भी खिलाड़ी के बारे में नहीं सुना, जिसने शीतकालीन ओलंपिक के बहिष्कार की बात कही हो। अगर कोई खिलाड़ी मैच में भाग नहीं लेने का फैसला करता है, तो यह उसका एक व्यक्तिगत विकल्प है, जिसके बारे में वे चिंतित नहीं हैं। उन्होंने देखा कि सभी खिलाड़ी प्रतियोगिता के लिए पूरी तरह से कोशिश कर रहे हैं। खिलाड़ी पहले से ही जानते हैं कि महामारी के माहौल में कैसे प्रतिस्पर्धा करनी है और शीतकालीन ओलंपिक के क्वालीफाइंग इवेंट्स में बायो-बबल प्रबंधन में विभिन्न महामारी निवारण कदमों को कैसे अनुकूलित किया जाए। हालांकि यह बहुत सहज नहीं है, लेकिन वे यह भी मानते हैं कि महामारी की स्थिति में ये कदम उठाए जाने की जरूरत है।

(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)

--आईएएनएस

एएनएम

Share this story