महाराष्ट्र के निखिल दुबे और पंजाब के राजपिंदर सिंह भी दूसरे दौर में पहुंचे

महाराष्ट्र के निखिल दुबे और पंजाब के राजपिंदर सिंह भी दूसरे दौर में पहुंचे
महाराष्ट्र के निखिल दुबे और पंजाब के राजपिंदर सिंह भी दूसरे दौर में पहुंचे नई दिल्ली, 15 सितम्बर (आईएएनएस)। सुमित सांगवान और नीरज स्वामी उन मुक्केबाजों में शामिल हैं, जिन्होंने बुधवार को कर्नाटक के बेल्लारी स्थित इंस्पायर इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट्स में शुरू हुई 5वीं एलीट मेन्स नेशनल बॉक्सिंग चैंपियनशिप के पहले दिन जीत के साथ आगाज किया।

2012 के लंदन ओलंपिक में भाग लेने वाले हरियाणा के मुक्केबाज सुमित ने 86 किग्रा भार वर्ग के शुरूआती दौर के मैच में आंध्र प्रदेश के हरीश प्रसादुला पर एकतरफा अंदाज में जीत दर्ज की।

इसी तरह 2019 के प्रेसिडेंट्स कप के स्वर्ण पदक विजेता नीरज ने भी एक प्रभावशाली प्रदर्शन किया और इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में अपने अभियान की विजयी शुरूआत की, जो कोविड -19 महामारी के कारण एक साल के अंतराल के बाद वापसी कर रहा है। दिल्ली का प्रतिनिधित्व करते हुए, नीरज ने 48 किग्रा भार वर्ग में हरियाणा के सागर के खिलाफ 5-0 से एकतरफा अंदाज में शानदार जीत हासिल की।

पंजाब के राजपिंदर सिंह ने भी अपने प्रतिद्वंद्वी हिमाचल प्रदेश के राहुल निल्टू को हराकर 54 किग्रा भार वर्ग के शुरूआती दौर के मुकाबले में 5-0 से एकतरफा जीत हासिल की।

पहले दिन प्रभावशाली शुरूआत करने वाले अन्य मुक्केबाजों में महाराष्ट्र के निखिल दुबे और छत्तीसगढ़ के दिनेश कुमार भी शामिल थे। 75 किग्रा भार वर्ग में खेलते हुए दोनों मुक्केबाजों ने शानदार जीत हासिल की। गुजरात के सेजाद लिलगर के खिलाफ पहले दौर में रेफरी स्टॉपिंग द कॉन्टेस्ट (आरएससी) के फैसले से निखिल को विजेता घोषित किया गया, जबकि दिनेश को अपनी करीबी 3-2 से जीत के दौरान बंगाल के अभिषेक शॉ के खिलाफ कड़ी मेहनत करनी पड़ी।

इस सात दिवसीय इस आयोजन में 35 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों की इकाइयों और बोडरें के करीब 400 मुक्केबाज भाग ले रहे हैं। इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन (एआईबीए) के संशोधित वजन डिवीजनों के अनुसार टूनार्मेंट 10 की बजाय 13 श्रेणियों के साथ आयोजित किया गया है। मौजूदा चैंपियनशिप का फाइनल 21 सितंबर को खेला जाएगा।

इवेंट में स्वर्ण पदक जीतने वाले खिलाड़ी आगामी 2021 एआईबीए एलीट मेन्स वल्र्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के लिए खुद के लिए सीधा बर्थ बुक करेंगे जो 24 अक्टूबर से 6 नवंबर तक सर्बिया के बेलग्रेड में होने वाली है।

आयोजन से प्रत्येक श्रेणी के स्वर्ण और रजत पदक जीतने वाले मुक्केबाज भी राष्ट्रीय कोचिंग शिविर में सीधे प्रवेश हासिल करेंगे। राष्ट्रीय चैंपियनशिप के बाद सेलेक्शन ट्रायल होंगे, जो 24 सितंबर तक खेले जाएंगे ताकि प्रत्येक वर्ग से राष्ट्रीय शिविर में भाग लेने के लिए शेष दो नामों को अंतिम रूप दिया जा सके।

नेशनल चैंपियनशिप के स्वर्ण और रजत पदक विजेता राष्ट्रीय कोचिंग शिविर में शामिल होंगे। जबकि शिविर में शेष दो स्थानों का निर्णय चयन ट्रायल के आधार पर किया जाएगा, जो कि नेशनल के ठीक बाद होगा, जहां नेशनल्स के दो कांस्य पदक विजेता उन तीन शीर्ष टीमों- एसएससीबी, आरएसपीबी और हरियाणा - की बी टीमों का प्रतिनिधित्व करने वाले मुक्केबाजों के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे, जिन्होंने राष्ट्रीय चैंपियनशिप के बीते संस्करण में सबसे अच्छा प्रदर्शन किया था। नेशनल कैम्प के लिए शेष दो नामों की घोषणा 24 सितंबर को सेलेक्शन ट्रायल के परिणामों के आधार पर की जाएगी।

--आईएएनएस

आरएसके/एएनएम

Share this story