मुझे अपने हुनर को और निखारने की जरूरत : सिंधु

मुझे अपने हुनर को और निखारने की जरूरत : सिंधु
मुझे अपने हुनर को और निखारने की जरूरत : सिंधु नई दिल्ली, 11 जनवरी (आईएएनएस)। दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु ने मंगलवार को कहा कि उन्हें इस सत्र में खेलने वाले हर टूर्नामेंट में अपने हुनर को और निखारने के साथ नए गुण सीखने की जरूरत है। भारतीय शटलर ने कहा कि उनके लिए हर खिलाड़ी के खिलाफ रणनीति बदलते रहना महत्वपूर्ण है।

सिंधु ने कहा, मुझे अपने कौशल में सुधार करने और खेल के प्रति नए गुण सीखने की जरूरत है। मुझे लगता है कि हर कोई आपके खेल को समझता है। यह बहुत महत्वपूर्ण है कि जब आप किसी विशेष खिलाड़ी के साथ खेलते हैं तो आप हर बार रणनीति बदलते रहें। आजकल, वे आपके मैच देखते हैं, ताकि आप पर हावी हो सके। इसलिए हमें उसी के अनुसार रणनीति बनाने की जरूरत है।

इस सीजन के कार्यक्रम के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, हमारा बहुत व्यस्त शेड्यूल है। इसलिए मेरे लिए फिट रहना महत्वपूर्ण है और यह भी सुनिश्चित करें कि हर बार जब मैं कोर्ट में जाऊं तो अपना 100 प्रतिशत दे संकू।

उन्होंने आगे कहा, जनवरी से दिसंबर तक बहुत सारे टूर्नामेंट होने हैं। एक खिलाड़ी के रूप में हमें यह सुनिश्चित करना होगा कि हम शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रहे, ताकि हम किसी भी इवेंट में खेलते समय अपना 100 प्रतिशत दे पाएं।

मंगलवार को अपने शुरुआती दौर के मैच में सिंधु ने कहा, हमेशा पहला मैच महत्वपूर्ण होता है। इसलिए मैंने शुरू से ही बढ़त बनाए रखा और अंत में इसे जीत के साथ खत्म किया।

हालांकि, उन्होंने श्रीकृष्ण प्रिया और कई युवा खिलाड़ियों को सलाह दी है।

सिंधु ने आगे कहा, मुझे लगता है कि निश्चित रूप से बहुत सी चीजों पर काम करना अभी बाकी है, क्योंकि जब कौशल की बात आती है और जब शारीरिक फिटनेस की बात आती है, तो मुझे लगता है कि उन्हें इसकी जरूरत है।

--आईएएनएस

आरजे/आरजेएस

Share this story